1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

किंग्स इलेवन के हाथों हार से मुंबई हैरान

आगे बढ़ कर मोर्चा संभालने वाले कप्तान कुमार संगकारा ने आईपीएल 3 में राज कर रहे मुंबई इंडियंस को छह विकेट से हरा दिया है. मुंबई ने 20 ओवर में 7 विकेट के नुक़सान पर 154 रन बनाए जिसे पंजाब ने चार विकेट खोकर हासिल कर लिया.

default

जीत का स्वाद

आईपीएल 3 में सेमीफ़ाइनल की दौड़ से बाहर हो चुकी किंग्स इलेवन पंजाब ने इस मैच में पांच बदलाव किए. खिलाड़ियों ने जिस तरह से गेंदबाज़ी और बल्लेबाज़ी की उससे टीम के रूप में उनकी एकजुटता साफ़ झलक रही थी लेकिन अब लीग में वापसी की उम्मीदें करना बेमानी है. 11 मैचों में यह उनकी सिर्फ़ तीसरी जीत है.

Sachin Tendulkar

मुंबई इंडियंस ने पहले खेलते हुए किंग्स इलेवन के सामने 155 रन का लक्ष्य रखा. महेला जयवर्धने ने सिर्फ़ 18 गेंदों में 31 रन बना कर तेज़ तर्रार शुरुआत की तो एड्रीयन बराठ के 33 रनों ने किंग्स इलेवन को मज़बूती प्रदान की. कप्तान कुमार संगकारा ने 42 गेंदों में 56 रन बनाए और वह 19वें ओवर तक क्रीज़ पर रहे.

संगकारा ने अपनी बल्लेबाज़ी के ज़रिए पंजाब की जीत सुनिश्चित करने की कोशिश की और आख़िरकार वह सफल हुए. लेकिन फ़ॉर्म से जूझ रहे युवराज का ख़राब दौर जारी है और वह इस मैच में भी सिर्फ़ 15 रन ही बना सके और पोलार्ड का शिकार बने. पंजाब ने 20वें ओवर में चार विकेट के नुक़सान पर 158 रन बना कर मैच जीता.

मुंबई इंडियंस ने टॉस जीता और पहले बल्लेबाज़ी करने का फ़ैसला किया. इस बार आईपीएल में धमाकेदार प्रदर्शन कर रही मुंबई की बल्लेबाज़ी इस मैच में उतना ख़ास नहीं कर पाई और रह रहकर विकेट गिरते रहे. इरफ़ान पठान ने शिखर धवन के रूप में मुंबई का पहला विकेट हासिल किया. शिखर ने सिर्फ़ 2 रन बनाए. इसके बाद तेंदुलकर और रायडू में 44 रन की अच्छी साझेदारी हुई और दोनों स्कोर को 51 रन तक ले गए.

रायडू (33 रन) ख़ास तौर पर आक्रामक दिखाई दिए लेकिन पीयूष चावला ने उनके बल्ले को ख़ामोश कर दिया. अपने अगले ओवर में पीयूष ने सौरभ तिवारी को भी चलता कर दिया जिन्होंने 4 रन ही अपने खाते में जोड़े थे. पीयूष की ख़तरनाक गेंदबाज़ी का आलम था कि अपने अगले ओवर में उन्होंने सचिन तेंदुलकर को फंसा लिया और 29 रन के निजी स्कोर पर उन्हें बोल्ड किया.

बाक़ी क़सर इरफ़ान पठान ने निकाली जिन्होंने आर सतीश को 20 रन पर और किरोन पोलार्ड को 18 रन पर आउट किया. डूमिनि ने उपयोगी पारी खेलते हुए 35 रन जोड़े और मुंबई को 154 रन तक पहुंचाने में मदद की.

रिपोर्ट: एजेंसियां/एस गौड़

संपादन: ए कुमार

संबंधित सामग्री