1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

ताना बाना

कार्तिकेयन की फॉर्मूला वन में वापसी

फॉर्मूला वन टीम हिस्पेनिया ने पुष्टि की है कि उसने 2011 के सीजन के लिए भारत के नारायण कार्तिकेयन के साथ करार किया है. कार्तिकेयन पांच साल बाद फॉर्मूला वन रेस में ट्रैक पर उतरेंगे.

default

इससे पहले कार्तिकेयन जॉर्डन टीम के लिए फॉर्मूला वन में हिस्सा ले चुके हैं. उन्होंने कहा, "मुझे यकीन है कि मेरे पास वह पेस और फिटनेस है कि मैं फॉर्मूला वन में सफलता हासिल कर सकता हूं." कार्तिकेयन ने ट्विटर पर भेजे संदेश में कहा, "साल 2011 में मैं फॉर्मूला वन में वापसी कर रहा हूं. मैंने हमेशा फॉर्मूला वन में वापसी के लिए खुद को तैयार रखा."

कार्तिकेयन इस दौरान भारत में पहली बार फॉर्मूला वन में हिस्सा लेंगे. उन्होंने उम्मीद जताई कि उन्हें भारत में अपने घरेलू दर्शकों से उतना ही प्यार मिलेगा जितना कि क्रिकेटरों को मिलता है. उन्होंने कहा कि फॉर्मूला वन में वापसी उनके लिए सपना सच होने जैसा है.

कार्तिकेयन ने वर्ष 2005 में फॉर्मूला वन में देश का पहला कार चालक बनकर भारतीय खेलों में इतिहास रचा था. उन्होंने जार्डन ग्रां पी में पहली बार कार चलाई थी. 2006 में विलियम्स फॉर्मूला वन के लिए कार्तिकेयन टेस्ट चालक रहे.

इसके बाद वर्ष 2007 से 2009 तक उन्होंने शौकिया कार रेसिंग में भाग लिया. कार्तिकेयन ए-वन टीम इंडिया के लिए प्रमुख कार चालक रहे. विश्व कप मोटर स्पोर्ट में उन्होंने देश के लिए रेस जीती.

हिस्पेनिया टीम के प्रिंसिपल कॉलिन कोलेस ने कार्तिकेयन से करार करने पर प्रतिक्रया व्यक्त करते हुए कहा कि 2011 की फॉर्मूला वन रेस के लिए कार्तिकेयन के साथ करार करने पर हम खुश हैं. "मैं नारायण को लंबे समय से जानता हूं और मुझे उम्मीद है कि उनका अनुभव हमारी टीम के लिए लाभदायक होगा."

रिपोर्टः एजेंसियां/एसके

संपादनः आभा एम

DW.COM

WWW-Links