1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

ताना बाना

काबुल में खुदकुश हमले में 12 की मौत, 47 घायल

मंगलवार को अफ़ग़ानिस्तान की राजधानी काबुल में ख़ुदकुश बम धमाका. कम से कम 20 की मौत. पुलिस ने कहा हमला नैटो सैनिकों पर किया गया था. तालिबान ने ली ज़िम्मेदारी.

default

काबुल के गृहमंत्रालय ने कहा है, "ताज़ा रिपोर्ट के हिसाब से 47 लोग घायल हुए हैं और 12 लोगों की मौत हुई है. हमारे पास ये सूचना नहीं है कि आईसैफ़ के सैनिक मारे गए हैं या नहीं."

घुसपैठियों से लड़ने के लिए बनाई गई अमेरिकी अकादमी के बाहर मंगलवार को ये आत्मघाती बम धमाका हुआ. यहां आज अमेरिका यात्रा के बारे में अफ़ग़ानी राष्ट्रपति हामिद करज़ई का संवाददाता सम्मेलन होने वाला था.

पश्चिमी काबुल में संसद के नज़दीक और कई सरकारी कार्यालयों वाले इलाके में ये बम विस्फोट हुआ. आत्मघाती बम हमले में कम से कम 20 लोग मारे गए हैं इनमें 8 अमेरिकी भी हैं. 40 से ज़्यादा लोगों के घायल होने के समाचार हैं. नैटो के नेतृत्व वाली अंतरराष्ट्रीय सेना आईसैफ ने मृतकों की संख्या बताने से इनकार किया है.

नैटो से जारी बयान में कहा गया, "आईसैफ अफ़ग़ानी सुरक्षाकर्मियों के साथ मंगलवार सुबह काबुल के दारुलअमान रोड पर हुए हमले की जांच कर रहा है."

मौके पर मौजूद एक व्यक्ति ने बताया कि इस बम धमाके में चार अफ़ग़ानी भी मारे गए हैं. इस प्रत्यक्षदर्शी से मिली जानकारी के हिसाब से एक अमेरिकी सैन्य वाहन और नौ दूसरे सैन्य वाहन क्षतिग्रस्त हुए हैं.

समाचार एजेंसी एएफपी ने ख़बर दी है कि तालिबान ने काबुल में हुए इस बम विस्फोट की ज़िम्मेदारी ली है.

बार बार हो रहे हमलों के कारण पुलिस ने अफ़ग़ानी राजधानी काबुल में कई सुरक्षा नाके बनाए हैं.

रिपोर्टः एजेंसियां/आभा मोंढे

संपादनः प्रिया एसेलबॉर्न