1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

मनोरंजन

कान में ऐश्वर्या का जलवा

फ्रांस के मशहूर कान फिल्म फेस्टिवल में भारतीय बॉलीवुड स्टार ऐश्वर्या राय ने एक बार फिर जलवा बिखेरा. 63वें उद्घाटन समारोह में ऐश्वर्या ने शानदार हल्की बैंगनी रंग की पोशाक पहनी. वह लगातार कान समारोह में आती रही हैं.

default

कान समारोह में ऐश्वर्या

36 साल की भारतीय फिल्म तारिका ऐश्वर्या राय जब लाल कालीन पर उतरीं तो उन्होंने डिजाइनर एली जाब की तैयार की गई गाउन पहन रखी थी. ऐश्वर्या को देखने के लिए कान में भारी भीड़ जमा हुई. हालांकि उनके पति अभिषेक बच्चन उनके साथ नहीं थे.

Aishwarya Rai

लाल कालीन पर ऐश्वर्या के साथ लोरियाल की प्रवक्ता और अमेरिकी अदाकारा इवा लोनगोरियो भी थीं. ऐश्वर्या अपनी आने वाली फिल्म रावण को प्रोमोट करने कान पहुंची हैं. इस फिल्म में उनके साथ पति अभिषेक बच्चन और तमिल कलाकार विक्रम भी हैं. फिल्म को पहली बार 17 मई को दिखाया जाएगा.

दो भाषाओं में तैयार की गई फिल्म का निर्माण रिलायंस की कंपनी बिग पिक्चर्स ने किया है और यह जून में सिनेमाघरों में प्रदर्शित की जाएगी. पूर्व मिस वर्ल्ड ऐश्वर्या राय की फिल्म देवदास 2002 में कान फिल्म समारोह में दिखाई गई थी. इसके बाद से वह लगातार इस समारोह में शिरकत करती आई हैं.

कान फिल्म समारोह की शुरुआत रिडले स्कॉट की फिल्म रॉबिन हुड के प्रदर्शन के साथ हुई. फिल्म में रसेल क्रो और केट ब्लैंचेट जैसे अभिनेता हैं. इस मौके पर ऑस्कर पुरस्कार विजेता मेक्सिको की अभिनेत्री सलमा हायक भी मौजूद थीं, जो 2005 में कान फिल्म समारोह में जूरी में रह चुकी हैं. उस साल भारत की नंदिता दास भी जूरी सदस्य थीं.

Cannes Jury leerer Stuhl

कान समारोह के जूरी

इस बीच, भारत की डॉक्यूमेंट्री फिल्म कवि भी कान में दिखाई जा रही है. अमेरिकी निर्देशक ग्रेग हालवे के निर्देशन में बनी 19 मिनट की इस फिल्म को शॉर्ट फिल्म कैटेगरी में रखा गया है. इसमें एक गुलाम बालक की कहानी है और फिल्म ऑस्कर के लिए भी नामांकित हो चुकी है. हालांकि यह ऑस्कर की दौड़ में डेनमार्क की द न्यू टेनेन्ट्स से पिछड़ गई थी.

कान फिल्म समारोह में भारत की भागीदारी जूरी के तौर पर भी होगी. मशहूर फिल्म निर्देशक शेखर कपूर जूरी सदस्य हैं और वह डायस पर टिम बर्टन और बेनेसियो डेल टोरो जैसे दिग्गजों के साथ नजर आएंगे.

रिपोर्टः एजेंसियां/ए जमाल

संपादनः महेश झा

संबंधित सामग्री