1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

ताना बाना

कांग्रेसी मंत्री ने कहा कश्मीर को आजादी दो

उत्तर भारतीय राज्य जम्मू कश्मीर में स्वास्थ्य और बागवानी मंत्री शाम लाल शर्मा ने एक सभा में अपनी पार्टी कांग्रेस को सलाह दी कि जम्मू कश्मीर को आजादी दे दी जानी चाहिए. कांग्रेस ने उनके बयान से खुद को अलग कर लिया है.

default

कांग्रेस ने इस बयान पर कहा कि यह उनके निजी विचार हैं और पार्टी से इसका कोई लेना देना नहीं है. कठुआ जिले के बानी में एक रैली को संबोधित करते हुए शाम लाल शर्मा ने कहा कि जम्मू को अलग राज्य बना दिया जाए लद्दाख को केंद्र शासित प्रदेश बना कर कश्मीर को आजाद कर दिया जाना चाहिए. शर्मा ने जम्मू कश्मीर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष सैफुद्दीन सोज की उपस्थिती में कहा, "कश्मीर को आजादी दे दीजिए, यह फायदेमंद है. जम्मू को राज्य का दर्जा दे दीजिए और लद्दाख को केंद्र शासित प्रदेश बनाइए. अगर राज्य का विकास चाहिए तो यही एक हल है."

इस पर विपक्षी भारतीय जनता पार्टी ने उग्र प्रतिक्रिया दी और उन्हें सरकार से निकालने और गिरफ्तार करने की मांग की. कांग्रेस के प्रवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी ने शर्मा की टिप्पणियों को उनके निजी विचार करार दिया और कहा कि पार्टी का इस मामले में विचार एकदम साफ है और वह है भारतीय संविधान के तहत स्वायत्तता.

रैली में शाम लाल शर्मा की टिप्पणी से अजीब स्थिति पैदा हो गई. सोज ने हानि को लीपने की कोशिश में राज्य को एकजुट रखने के बारे में पार्टी की प्रतिबद्धता जाहिर की. सोज ने कहा, हम सभी एआईसीसी अध्यक्ष सोनिया गांधी के प्रति जवाबदेह है. हम जो भी यहां कहते हैं वह कांग्रेस की विचारधारा के तौर पर समझी जाती है इसलिए हमें पार्टी की विचारधारा के हिसाब से बोलना चाहिए.

जबकि सिंघवी ने नई दिल्ली में पत्रकारों से कहा, मैं इसे सिर्फ उनके निजी विचार मानता हूं. वह अपने राज्य में इस बारे में बातचीत कर रहे थे और निश्चित रूप से यह उनका अपना विचार है. जो कुछ शब्द मैंने सुने न तो मैं उन्हें लाक्षणिक भाषण बता सकता हूं और उसे शाब्दिक अर्थ में तो लिया ही नहीं जाना चाहिए.

रिपोर्टः एजेंसियां/ आभा एम

संपादनः एन रंजन

DW.COM

WWW-Links