1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

जर्मन चुनाव

कश्मीर में हालात भारत का अंदरूनी मामला: अमेरिका

कश्मीर में हो रहे हिंसक भारत विरोधी प्रदर्शनों और फायरिंग में कई लोगों की मौत को अमेरिका ने भारत का अंदरूनी मामला करार दिया है. अमेरिका ने प्रदर्शनकारियों से अनुरोध किया है कि वे प्रदर्शन शांतिपूर्ण तरीके से करें.

default

व्हाइट हाउस

अमेरिका के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता मार्क टोनर ने सुरक्षाबलों के साथ हिंसक झड़पों में मारे गए लोगों के प्रति संवेदना जाहिर की है. टोनर ने कहा, "हम झड़पों में लोगों के मारे जाने से दुखी हैं. यह भारत का अंदरूनी मामला है. घटना के कारणों की जांच कराने और स्थिति को शांत करने के लिए भारत सरकार जो प्रयास कर रही है उसकी हम सराहना करते हैं."

मार्क टोनर ने स्पष्ट किया कि अमेरिका हमेशा चाहता रहा है कि कश्मीर मुद्दे का हल भारत और पाकिस्तान आपस में मिल बैठकर तय करें. आपसी मतभेद सुलझाने के लिए संवाद का रास्ता लिया जाना चाहिए. "प्रदर्शन के दौरान हम लोगों से अनुरोध करेंगे कि किसी भी तरह की हिंसा से दूर रहा जाए और शांतिपूर्ण तरीके से अपनी बात को रखा जाए."

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता मार्क टोनर से भारतीय कश्मीर में उपजे हालात के सिलसिले में अमेरिका के रुख पर सवाल किया गया था. भारत और पाकिस्तान के विदेश मंत्री इस्लामाबाद में अगले हफ्ते मिल रहे हैं. टोनर से जब पूछा गया कि क्या इस मुलाकात में कश्मीर मुद्दे पर भी विचार होना चाहिए तो उन्होंने कहा कि अमेरिका हमेशा पाकिस्तान और भारत के बीच बातचीत का समर्थन करता रहा है.

पाकिस्तान कश्मीर मुद्दे पर अमेरिका से मध्यस्थता का आग्रह करता रहा है लेकिन अमेरिका कई बार कह चुका है कि इस मुद्दे का हल द्विपक्षीय बातचीत से ही निकाला जाना चाहिए. पाकिस्तान के प्रधानमंत्री युसूफ रजा गिलानी ने अमेरिका से कहा है कि वह भारत के साथ कश्मीर सहित सभी मुद्दों का का हल चाहते हैं.

रिपोर्ट: एजेंसियां/एस गौड़

संपादन: ओ सिंह

संबंधित सामग्री