1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

जर्मन चुनाव

कश्मीर में महिला आतंकियों का खतरा!

आतंकवादी संगठन लश्कर ए तैयबा कश्मीर में हिंसा भड़काने के लिए महिला चरमथियों का इस्तेमाल कर सकते हैं. भारतीय सेना ने खुफिया एजेंसियों के हवाले से कहा है कि इन महिलाओं को खुदकुश हमले का प्रशिक्षण दिया गया है.

default

शुक्रवार को भारतीय सेना ने बताया, खुफिया एजेंसी को अलग अलग जगहों से पता लगा है कि लश्कर से जुड़े चरमपंथी प्रदर्शनकारियों के साथ मिल सकते हैं. सूचना के मुताबिक लश्कर के लिए काम करने वाले लोगों ने अपने आकाओं से अनुमति ली है कि वे कश्मीर में प्रदर्शनों को उकसाने के लिए ग्रेनेड हमले या आईईडी विस्फोट करें ताकि लोग मारे जाएं और हिंसा भड़के.

इस तरह के हमले सुरक्षा शिविरों या सैन्य ठिकानों के आस पास होने की आशंका व्यक्त की गई है.

सेना की रिपोर्ट में कहा गया है कि विस्फोटकों की अच्छी जानकारी रखने वाली प्रशिक्षित महिलाओं को ये काम सौंपा जाएगा और उन्हीं के हाथ में ये जिम्मा होगा. लश्कर के स्थानीय चरमपंथी आर्थिक रूप से कमजोर लोगों और महिलाओं को उकसा रहे हैं कि वह प्रदर्शनों में हिस्सा लें.

रिपोर्टः पीटीआई/आभा एम

संपादनः ए जमाल

DW.COM

WWW-Links