1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

कश्मीर में बीजेपी की तिरंगा यात्रा आज से

जम्मू कश्मीर सरकार की चेतावनी के बावजूद बीजेपी बुधवार से कश्मीर में तिरंगा यात्रा निकालने जा रही हैं. राज्य के मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला पहले ही कह चुके है कि बीजेपी यह यात्रा न निकाले, इससे घाटी अशांत हो सकती है.

default

बीजेपी के युवा मोर्चे को राज्य सरकार की आपत्तियों की परवाह नहीं है. पार्टी ने साफ किया है कि बुधवार को वह अपनी प्रस्तावित तिरंगा यात्रा की शुरुआत करेगी. यात्रा कश्मीर से ही शुरू की जाएगी. मंगलवार को भारतीय जनता युवा मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अनुराग ठाकुर ने कहा, ''इस मार्च के विरोधियों को पता है कि अगर युवा कश्मीर मुद्दे पर जागरुक हो गए तो उनकी राजनीति जमीन खत्म हो जाएगी. इसी वजह से यात्रा को लेकर विवाद खड़े किए जा रहे हैं और इसे राजनीतिक रंग देने की कोशिश की जा रही है.''

कश्मीर के मुद्दे को सुलगाने में लगे युवा भाजपाइयों का कहना है कि घाटी की समस्या के लिए कांग्रेस जिम्मेदार है. बीजेपी के मुताबिक कांग्रेस ने कश्मीर को लेकर इतनी गलतियां की कि 60 साल बाद भी समस्या सुलझ नहीं पा रही है. ठाकुर कहते हैं, ''पूरा देश कांग्रेस की गलतियों की सजा भुगत रहा है.''

राजनीति में और ज्यादा चमकने की होड़ में जुटे युवा बीजेपी कार्यकर्ताओं को लग रहा है कि तिरंगा यात्रा से घाटी में हलचल मचेगी और उनका राजनीतिक भविष्य चमचमा उठेगा. यही वजह है कि विरोध और घाटी की स्थिति के वाबजूद युवा भाजपाई अपनी यात्रा निकालने पर अड़े हुए हैं. कश्मीर घाटी में पिछले साल तीन महीनों तक खूब हिंसा हुई, जिनमें 100 से ज्यादा लोग मारे गए. नवंबर के बाद वहां हालात कुछ सामान्य हुए हैं. ऐसे में राज्य सरकार को आशंका है कि बीजेपी की जिद अमन की बयार में काला धुंआ फैला सकती है.

रिपोर्ट: पीटीआई/ओ सिंह

संपादन: एन रंजन

DW.COM

WWW-Links