1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

जर्मन चुनाव

कश्मीर में चार मौतों के बाद तनाव बढ़ा

भारतीय कश्मीर में तनाव बढ़ता जा रहा है और मंगलवार को चार लोगों की जान चली गई. इसके बाद श्रीनगर और दूसरे हिस्सों में कर्फ्यू लगा दिया गया है. सेना की तैनाती पर विचार किया जा रहा है.

default

श्रीनगर में हिंसा के बाद तनाव

हिंसा के बाद पूरी कश्मीर घाटी में तनाव का माहौल है और सूत्रों का कहना है कि हालात पर काबू पाने के लिए राज्य सरकार सेना की मदद ले सकती है.

मंगलवार सुबह लोगों को खबर मिली कि बटमालू इलाके में एक युवक की मौत हो गई. इस युवक की मौत कैसे हुई, इस बारे में अलग अलग सूचनाएं आईं. आधिकारिक सूत्रों ने कहा कि पुलिस युवक का पीछा कर रही थी और बचने के लिए उसने नहर में छलांग लगा दी. उसकी मौत डूबने की वजह से हुई. लेकिन प्रदर्शनकारियों का आरोप है कि इस युवक को पुलिस ने मारकर नहर में फेंक दिया.

इस युवक की मौत की खबर के बाद घाटी में प्रदर्शनों का दौर शुरू हो गया. हुर्रियत ने छात्रों से प्रदर्शन करने की अपील की थी, लेकिन सरकार ने स्कूलों और कॉलेजों कों बंद रखा. इसके बावजूद कई इलाकों में भीड़ हाथों में पत्थर लेकर सड़कों पर उतर आई. भीड़ ने पुलिस और सुरक्षाबलों पर पत्थर बरसाने शुरू कर दिए. आरोप है कि जवाब में पुलिस ने गोली बारी की. इस गोलीबारी में तीन लोगों की मौत हो गई.

मरने वालों में फयाज अहमद वाणी नाम का एक युवक और फैंसी नाम की एक 25 वर्षीय महिला शामिल हैं. फयाज की मौत गर्दन में गोली लगने से हुई. प्रदर्शनकारियों का कहना है कि पुलिस ने पत्थर फेंक रही भीड़ पर गोलियां चलाईं, तभी फयाज को गोली लगी.

इसी इलाके में फैंसी को भी गोली लगी. हालांकि पुलिस का कहना है कि यह गोली भीड़ को तितर बितर करने के लिए हवा में चलाई गई थी.

रिपोर्टः एजेंसियां/वी कुमार

संपादनः ए जमाल

संबंधित सामग्री