1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

जर्मन चुनाव

कश्मीर में कर्फ्यू खत्म

रविवार को भारत प्रशासित कश्मीर के सभी इलाकों से कर्फ्यू हटा लिया गया है. हिंसक प्रदर्शनों के चलते कश्मीर घाटी में पिछले आठ दिन से कर्फ्यू लगा था. पिछले कुछ दिनों से प्रदर्शन नहीं हुए और शांति बनी रही.

default

सड़कों से हटे सुरक्षाबल

श्रीनगर के कुछ इलाकों के अलावा बडगाम, गांदरबल और कुपवाड़ा जिलों से कर्फ्यू शनिवार को ही हटा लिया गया, जबकि बाकी इलाके रविवार को खुले. पुलिस के मुताबिक अनंतनाग, श्रीनगर, बारामूला, कुलगाम, बांदीपोरा, शोपियां और पुलवामा जिलों में अब कर्फ्यू नहीं है.

घाटी में हिंसक प्रदर्शनों के बाद पुलिस गोलीबारी में 33 लोगों की मौत हो गई थी. प्रदर्शनकारियों ने सरकारी दफ्तरों और पुलिस थानों में आग लगाई और वाहनों को भी नुकसान पहुंचाया. इसके बाद 31 जुलाई से पूरे इलाके में कर्फ्यू लगा दिया गया. हालांकि बाद में अलगाववादी नेता सैयद अली शाह गिलानी ने लोगों से अपील की कि सरकारी संपत्ति को नुकसान पहुंचाने से 'आंदोलन' को नुकसान पहुंचेगा.

4 अगस्त को भारत के गृह मंत्री पी चिदंबरम ने कश्मीर के लोगों से अपील की कि वे जायज बात को सुनें और हिंसक प्रदर्शनों से दूर रहें. उन्होंने बातचीत शुरू करने का भी वादा किया और कहा कि शांति होने के बाद लोगों की हर समस्या को सुना जाएगा.

तब से घाटी में शांति बनी हुई है. इसी को देखते हुए शनिवार को प्रशासन ने कर्फ्यू में ढील देने का फैसला किया. हालांकि सूत्रों का कहना है कि अलगाववादी गुटों ने आंदोलन को कुछ देर के लिए रोक दिया है ताकि लोगों को जरूरत का सामान मिल सके. अगले हफ्ते दोबारा कश्मीर बंद का आह्वान किया जा सकता है.

रिपोर्टः एजेंसियां/वी कुमार

संपादनः उ भट्टाचार्य

संबंधित सामग्री