1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

कर्नाटक के निर्दलीय विधायक अदालत में

कर्नाटक में अयोग्य घोषित किए गए पांच निर्दलीय विधायकों ने हाईकोर्ट में याचिका दायर कर उनके मामले पर जल्द सुनवाई करने का अनुरोध किया है. विधानसभा अध्यक्ष ने इन्हें अयोग्य घोषित कर विश्वास मत में हिस्सा नहीं लेने दिया था.

default

कर्नाटक के मुख्यमंत्री बी एस येदियुरप्पा

विधान सभा अध्यक्ष के फैसले को पांचों विधायकों ने कर्नाटक हाईकोर्ट में चुनौती दी है और अब ये इस पर शीघ्र सुनवाई चाहते हैं. इनकी दलील है कि निर्दलीय होने के कारण ये लोग दलबदल कानून के दायरे में नहीं आते हैं फिर भी विधानसभा अध्यक्ष ने इन्हें इस कानून के तहत अयोग्य करार दिया.

इन्होंने याचिका में अदालत से गुरूवार को विधानसभा में दोबारा होने वाले विश्वास मतदान में हिस्सा लेने की अनुमति देने का भी अनुरोध किया है. विधायकों के वकील के जी राघवन ने बताया कि इस याचिका पर आज ही सुनवाई जरूरी है क्योंकि कल विधानसभा में मतदान भी है और अदालत की कल सा ही छुट्टियां भी हो रही हैं.

विधानसभा अध्यक्ष के जी बोपइया ने 11 अक्टूबर को विश्वास मत पर वोटिंग से कुछ घंटे पहले ही बीजेपी के 11 बागी विधायकों के साथ इन पांचों को भी मतदान में हिस्सा लेने की अनुमति नहीं दीं. अयोग्य घोषित किए गए सभी विधायकों ने हाईकोर्ट में याचिका दायर की है. बीजेपी विधायकों के मामले पर अदालत ने फैसला सुरक्षित कर लिया है.

रिपोर्टः पीटीआई/निर्मल

संपादनः ओ सिंह