1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

कतर को प्रतिबंधों से उबार लेगा हमाद पोर्ट!

कतर ने 7.4 अरब अमेरिकी डॉलर खर्च करके एक नया बंदरगाह बनाया है जो आने वाले वक्त में इलाकाई समुद्री परिवहन का एक बड़ा हब बन सकता है. कतर को इसके जरिये पड़ोसी देशों के प्रतिबंधों की चुनौतियों से लड़ने में मदद की उम्मीद है.

दोहा से करीब 40 किलोमीटर दक्षिण में मौजूद हमाद पोर्ट मध्य पूर्व के सबसे बड़े बंदरगाहों में से एक है. सऊदी अरब, मिस्र, बरहीन और संयुक्त अरब अमीरात ने इस साल जून में कतर से राजनयिक संबंध खत्म कर लिये. इसके बाद से इस बंदरगाह के जरिये कतर बड़ी मात्रा में भोजन सामग्री और निर्माण का सामान मंगा रहा है. कतर में 2022 का फुटबॉल वर्ल्ड कप होना है और उसके लिए देश में स्टेडियम और दूसरी इमारतों का भारी पैमाने पर निर्माण चल रहा है.

आतंकवादियों को कथित समर्थन के आरोपों पर लगे प्रतिबंधों ने कतर के लिए दक्षिण एशिया और सुदूर पूर्व के देशों से सामान की आपूर्ति पर चिंता पैदा कर दी थी.

मंगलवार को अधिकारियों ने कहा कि हमाद पोर्ट कतर को चीन और ओमान से सीधे सामान मंगाने में मदद करेगा. अब दुबई के पुनर्निर्यात बंदरगाह की जरुरत उसे नहीं पड़ेगी. कतर के परिवहन मंत्री जासिम बिन सैफ अल सुलैति ने हमाद पोर्ट के डॉक पर एक समारोह के दौरान कहा, "बंदरगाह ...हम पर लगी उन सभी बेड़ियों को तोड़ देगा जो हमारी अर्थव्यवस्था पर लगाई गई हैं."

नेताओं और अधिकारियों के भाषण के तुरंत बाद आतिशबाजी की रोशनी में पूरा बंदरगाह जगमगा उठा. इस दौरान कतर के अमीर शेख तमीम बिन हमाद अल थानी की भी प्रतिबंधों से लड़ने की कोशिशों की खूब तारीफ हुई.

सऊदी अरब के कतर के साथ अपनी सीमा को सील करने और यूएई के साथ समुद्री रास्ते को बंद करने से कतर के आयात में भारी कमी हुई थी. बीते साल के जून और जुलाई से अगर तुलना करें तो यह कमी करीब एक तिहाई की थी. सिर्फ इतना ही नहीं सऊदी अरब, यूएई और बहरीन ने कतर के बैकों से पैसा निकालना शुरू कर दिया जिससे कतर की बैलेंश शीट भी जोखिम में घिर गयी.

कतर ने अपने समुद्री रास्तों को भारत, ओमान, तुर्की और पाकिस्तान तक बढ़ा लिया है और एलान किया है कि अपनी लिक्विफाइड नेचुरल गैस का उत्पादन 30 फीसदी तक बढ़ा देगा जिससे कि वह आर्थिक आजादी के दीर्घकालीन लक्ष्य को पानी की दिशा में अपने कदम बढ़ा सके.

26 वर्ग किलोमीटर के दायरे में फैला हमाद पोर्ट हर साल 45 लाख कंटेनर का संचालन करने की क्षमता रखता है. इसके टर्मिनल मवेशी, अनाज, गाड़ियां और तटरक्षक बलों के जहाजों को अपने यहां उतारने के लिये बनाये गये हैं.

एनआर/एए (रॉयटर्स)

DW.COM

संबंधित सामग्री