1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

जर्मन चुनाव

और दस्तावेज जारी करने को तैयार विकीलीक्स

अमेरिकी सेना के गोपनीय दस्तावेजों को लीक करने के लिए चर्चा में रही वेबसाइट विकीलीक्स ऐसे ही कुछ और दस्तावेज जारी कर सकती है. विकीलीक्स के संस्थापक जूलियन असांजे ने कहा है कुछ और गोपनीय दस्तावेज छापने जा रहे हैं.

default

जूलियन असांजेः और हंगामा होगा

वीडियो लिंक के जरिए लंदन में एक सभा के सामने बोलते हुए असांजे ने कहा कि करीब 15 हजार और गोपनीय दस्तावेजों को जारी करने की तैयारी की जा रही है. हालांकि अमेरिकी रक्षा मंत्रालय ने पिछले हफ्ते विकीलीक्स से कहा था कि उसके पास जो भी दस्तावेज हों उन्हें अमेरिका को सौंप दे. अमेरिका की तरफ से इस तरह की बात भी कही गई थी कि और ज्यादा दस्तावेजों को न छापा जाए.

लेकिन असांजे ने कोई निश्चित तारीख बताए बिना कहा कि हमारे पास करीब सात हजार रिपोर्ट तैयार हैं. जब उनसे पूछा गया कि क्या वह अब भी गोपनीय दस्तावेजों को छापेंगे तो उन्होंने साफ कहा, "निश्चित रूप से." असांजे ने कहा, "बार बार गुजारिश करने के बावजूद व्हाइट हाउस और पेंटागन से किसी तरह की मदद नहीं मिली है."

उधर पेंटागन ने कहा है कि अगर विकीलीक्स इस तरह की हरकत करता है तो यह 'गैरजिम्मेदारी की इंतेहा होगी'. गौरतलब है कि विकीलीक्स नाम की वेबसाइट ने कुछ हफ्ते पहले अमेरिकी सेना के कुछ गोपनीय दस्तावेजों के आधार पर खबरें छापी थीं. वेबसाइट ने ये दस्तावेज दुनिया के कुछ बड़े अखबारों को भी दिए थे. इन खबरों में अफगानिस्तान युद्ध से जुड़े कई अहम खुलासे हुए.

इनमें कहा गया कि अफगानिस्तान में नैटो सेनाओं के हाथों कई बार आम नागरिक मारे गए लेकिन उन खबरों को बाहर नहीं आने दिया गया. इसके अलावा अफगानिस्तान युद्ध में पाकिस्तान के दोहरी भूमिका को लेकर भी कई बातें सामने आईं. इन रहस्यों पर पर्दा उठने से अमेरिका में हड़कंप मच गया. अमेरिका की तरफ से बार बार कहा गया कि इन दस्तावेजों का लीक होना कई लोगों की जान के लिए खतरा पैदा कर सकता है.

पेंटागन की ओर से विकीलीक्स से कहा गया वह बाकी बचे दस्तावेजों को न छापे, बल्कि उन्हें अमेरिका को दे दे. लेकिन विकीलीक्स ने ऐसा करने से इनकार कर दिया.

रिपोर्टः एजेंसियां/वी कुमार

संपादनः एस गौड़

DW.COM

WWW-Links