1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

"औंधे मुंह गिरते हैं सचिन पर छींटाकशी करने वाले"

ऑस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाज ब्रेट ली का मानना है कि सचिन तेंदुलकर, ब्रायन लारा और केविन पीटरसन पर मैदान में छींटाकशी नहीं करनी चाहिए क्योंकि यह नीति इन बल्लेबाजों के सामने काफी महंगी पड़ती है.

default

ब्रेट ली

ब्रेट ली मानते हैं कि ये तीनों ऐसे बल्लेबाज हैं जिनके सामने छींटाकशी की रणनीति कतई काम नहीं करती. वह कहते हैं, "ये ऐसे बल्लेबाज हैं जिन्हें भड़काने के बाद आप फंस जाते हैं और फिर कोई आपका साथ नहीं देता."

ली ने कहा, "सचिन तेंदुलकर ऐसे खिलाड़ी हैं जिनके साथ आप उलटी सीधी बात नहीं करना चाहेंगे क्योंकि आप औंधे मुंह गिरेंगे. ऐसा ही ब्रायन लारा के साथ है. केविन पीटरसन को अपनी आक्रामकता पर काबू करना आता है और जब कोई उन्हें छेड़ देता है तो वह अपनी इस आक्रामकता को बहुत पसंद करते हैं. छींटाकशी को वह निजी तौर पर लेते हैं और फिर आग उगलते हैं. तब तो वह शतक भी ठोंक सकते हैं."

पीटरसन इस वक्त अपनी फॉर्म से जूझ रहे हैं. उन्हें टीम से बाहर बैठना पड़ रहा है. लेकिन ली को विश्वास है कि एशेज में वह वापसी करेंगे. उन्होंने कहा, "वह सामान्य से थोड़े अलग हो सकते हैं, वह टीम से दूर हैं लेकिन ऐसा तो सबके साथ होता है. मैं केविन पीटरसन का समर्थक हूं और जानता हूं कि वह वापस आएंगे." उन्होंने कहा कि टेस्ट क्रिकेट की बेहतरी के लिए पीटरसन जैसे बल्लेबाज का अच्छा खेलना बहुत जरूरी है.

रिपोर्टः एजेंसियां/वी कुमार

संपादनः ओ सिंह

DW.COM

WWW-Links