1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

ओबामा: मध्य पूर्व की स्थिति बर्दाश्त के बाहर

गजा की मदद के लिए जहाजी बेड़े के मृतकों को इस्तांबुल में दसियों हज़ार लोगों ने अंतिम विदाई दी. अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने इस्राएली हमले को दुखद बताते हुए कहा है कि लोगों की मौत ज़रूरी नहीं थी.

default

सीएनएन के साथ एक बातचीत में ओबामा ने कहा कि गजा मदद बेड़े की ट्रैजेडी दिखाती है कि मध्य पूर्व में यथास्थिति बर्दाश्त के बाहर है और शांति के लिए छिटपुट कोशिशों से काम नहीं चलेगा. उन्होंने कहा कि यह ज़रूरी है कि अंधी गली से बाहर निकला जाए, ताकि यह तय किया जा सके कि कैसे इस्राएल की सुरक्षा की चिंताओं से निपटा जा सके. उन्होंने कहा कि इसी के साथ फ़िलिस्तीनियों के लिए नई संभावनाएं पैदा करनी पड़ेगी. ओबामा की राय में हमले के लिए इस्राएल की निंदा करना जल्दबाज़ी होगा. पहले सारे तथ्यों पर गौर करना होगा. लेकिन यह कहना जल्दीबाज़ी नहीं है कि मध्य पूर्व की वर्तमान स्थिति बर्दाश्त से बाहर है.

इस बीच तुर्की के नगर इस्तांबुल में हज़ारों लोगों ने गजा की मदद के लिए जहाजी बेड़े पर इस्राएली हमले में मारे गए लोगों को अंतिम श्रद्धांजलि अर्पित की है. तुर्क और फ़िलिस्तीनी झंडों से ढके ताबूतों को ढोते हुए वे इस्राएल के ख़िलाफ़ व हमास के समर्थन में नारे लगा रहे थे. अमेरिकी विदेश मंत्रालय के अनुसार इस्राएली हमले में एक युवा अमेरिकी नागरिक की भी मौत हुई है. एकजुटता बेड़े से वापस लौटे जर्मनों के अनुसार इस्राएली उनके साथ बेहद बेरहमी से पेश आ रहे थे. इस बीच पेरिस, एथेंस, साराजेवो और ट्युनिस में भी इस्राएल विरोधी प्रदर्शन हुए हैं. गज़ा के लिए मदद सामग्री के साथ एक आयरिश जहाज़ रवाना होने वाला है, जिसमें अनेक सार्वजनिक व्यक्तित्व और पत्रकार होंगे.

दूसरी ओर इस्राएली प्रधान मंत्री बेन्यामिन नेतानयाहू ने सेना को निर्देश दिया है कि वह इस जहाज़ को गज़ा आने से रोके. उनके दफ़्तर से कहा गया है कि किसी जहाज़ को गज़ा नहीं पहुंचने दिया जाएगा. कहा गया है कि प्रधानमंत्री ने साथ ही कहा है कि वे नरमी से पेश आएं, ताकि जहाज़ के यात्रियों को कोई नुकसान न हो.

इस्राएली सूत्रों का कहना है कि नेतानयाहू कोशिश कर रहे हैं कि गज़ा में हथियार लाने पर पाबंदी के लिए कोई अंतर्राष्ट्रीय व्यवस्था की जाए, लेकिन असैनिक सामग्रियों की आपूर्ति होती रहे. लेकिन अधिकारियों ने इस सिलसिले में कोई विशद विवरण देने से इंकार कर दिया है.

रिपोर्ट: एजेंसियां/उभ

संपादन: एस गौड़

संबंधित सामग्री