1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

ओबामा पर दुनिया की सबसे मोटी किताब

49 साल के बराक ओबामा की जिंदगी को कितने पन्नों की किताब में समेटा जा सकता है? इंडोनेशिया के एक लेखक ने 5472 पन्ने लिख डाले हैं. और यह उनकी जिंदगी के सिर्फ एक हिस्से के बारे में है.

default

इंडोनेशिया में इस किताब को दुनिया की सबसे मोटी किताब कहा जा रहा है. ओबामा की इंडोनेशिया यात्रा के दौरान ही इस किताब को लॉन्च किया गया. इसे लिखा है निर्देशक और कलाकार दामियन दिमात्रा ने. द कलेक्शन, ओबामा एंड प्लूरलिज्म नाम की इस किताब की मोटाई एक फुट है. इस किताब में ओबामा के जकार्ता में गुजारे दिनों के बारे में लिखा गया है. अमेरिकी राष्ट्रपति ने 1967 के बाद चार साल जकार्ता में गुजारे. अपनी मां के साथ गुजारे उन दिनों के बारे में ओबामा ने अपनी यात्रा के दौरान भी बात की.

Obama Rede Universität Jakarta Indonesien

इंडोनेशिया में ओबामा

कहते हैं कि इंडोनेशिया में लोगों को रिकार्ड तोड़ने में मजा आता है. देश के रिकॉर्ड्स म्यूजियम का लेखाजोखा रखने वाले जया सुपर्णा का कहना है कि इस किताब ने पिछला रिकॉर्ड तोड़ दिया है. पिछला रिकॉर्ड अगाथा क्रिस्टी की द कंपलीट मिस मार्पल के नाम था जो 4032 पन्नों की किताब है.

लेखक दिमात्रा कहते हैं कि ओबामा की जिंदगी के बारे में उनकी दीवानगी की वजह अमेरिकी दूतावास में बिताई एक शाम है जहां उन्होंने एक रात्रिभोज में हिस्सा लिया. दिमात्रा एक साल के भीतर सात किताबें लिख चुके हैं और ओबामा पर एक फिल्म भी बना चुके हैं. वह कहते हैं कि लोग उन्हें पागल भी कहें तो कोई बात नहीं.

दिमात्रा कहते हैं, "मुझे कोई परेशानी नहीं. जितना ज्यादा दीवानापन होगा मेरे लिए उतना अच्छा है. वह एक ऐसी शख्सियत हैं जिनसे मुझे प्रेरणा मिलती है. वह मुझे सपनों के बारे में और बहुलवाद को ज्यादा समझने में मदद करते हैं."

दिमात्रा ने जो किताबें लिखी हैं उनमें ओबामा के स्कूल के बच्चों द्वारा उन्हें लिखे गए पत्रों का एक संग्रह भी है. एक बार एक बच्चे ने ओबामा को लिखा था कि वह ल्यूकेमिया से पीड़ित है और उसे अमेरिका में इलाज में मदद चाहिए.

रिपोर्टः एजेंसियां/वी कुमार

संपादनः महेश झा

DW.COM

WWW-Links