1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

जर्मन चुनाव

ओबामा ने 9/11 हेल्थ बिल पर दस्तखत किए

भारत की चिंताओं से बेपरवाह अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने उस हेल्थ केयर बिल पर दस्तख्त कर दिए हैं जिसमें 11 सितंबर 2001 के हमले के वक्त राहत और बचाव करने वालों और सुरक्षा कर्मियों को मुफ्त चिकित्सा सुविधाएं मिलेंगी.

default

इस वक्त हवाई में छुट्टियां मना रहे ओबामा ने इस बिल पर दस्तख्त करने के लिए वक्त निकाला. इसके तहत बनाए गए 4.2 अरब डॉलर के कोष से 9/11 के दौरान लोगों को बचाने वालों के लिए मुफ्त चिकित्सा सुविधाएं दी जाएंगी. इस राशि का एक हिस्सा एच-1 बी वीजा की कुछ श्रेणियों में फीस बढ़ा कर जुटाई जाएगी जिससे भारतीय कंपनियों पर अतिरिक्त बोझ पड़ेगा. भारत वीजा फीस में बढ़ोत्तरी का विरोध करता रहा है.

नए कानून के तहत कुछ विकासशील देशों से आयात होने वाले उत्पादों और सेवाओं पर भी दो प्रतिशत लेवी लगेगी जिनमें भारत भी शामिल है. वीजा की फीस बढ़ाने से भारतीय कंपनियों पर सालाना 20 करोड़ डॉलर का बोझ पड़ेगा. भारतीय वाणिज्य मंत्री आनंद शर्मा ने इसे अमेरिका से साथ व्यापार में पीछे हटने वाला कदम करार दिया.

Obama in Indien

भारत का ख्याल नहीं

वहीं ओबामा ने अपने बयान में कहा है, "मैं जेम्स जाद्रोगा 9/11 स्वास्थ्य और क्षतिपूर्ती विधेयक पर हस्ताक्षर करते हुए सम्मानित महसूस कर रहा हूं. इससे वर्ल्ड ट्रेड सेंटर पर हुई तबाही के दौरान राहत और बचाव का काम करने वालों, वहां रहने वालों, छात्रों और स्वास्थ्य संबंधी दुष्प्रभाव झेल रहे लोगों को चिकित्सा देखभाल और इलाज मुहैया कराया जाएगा."

9/11 से हुई बीमारी के चलते न्यूयॉर्क पुलिस विभाग के एक जासूस जेम्स जाद्रोग की मौत हो चुकी है. उन्हीं के नाम पर इस बिल को यह नाम दिया गया है. जाद्रोगा के पिता जोसेफ जाद्रोगा ने इस हेल्थ कानून पर खुशी जताई है.

ओबामा ने कहा, "हम कभी नहीं भूल सकते कि किस तरह दमकल कर्मियों, पुलिस अधिकारियों और दूसरे लोगों ने अपनी जान को जोखिम में डाल कर दूसरों को बचाया. मैं समझता हूं कि यह उन लोगों के लिए एक अहम कदम है जिनके शरीरों पर उस हमले के निशान अब तक मौजूद हैं."

रिपोर्टः एजेंसियां/ए कुमार

संपादनः आभा एम

DW.COM