1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

ओबामा ने युवाओं को नेतृत्व के टिप्स दिये

अमेरिकी राष्ट्रपति भवन छोड़ने के बाद बराक ओबामा पहली बार जनता के सामने आए. उन्होंने युवाओं से राजनीतिक विभाजन को पाटने की अपील की.

राष्ट्रपति से पूर्व राष्ट्रपति हो चुके बराक ओबामा तीन महीने के ब्रेक के बाद पहली बार जनता को संबोधित करते नजर आए. शिकागो यूनिवर्सिटी में उन्होंने छात्रों के साथ अच्छा खासा वक्त बिताया. इस दौरान छात्रों ने उनसे कई सवाल भी किये. छात्रों को संबोधित करते हुए अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति बार बार ट्रंप के नाम से बचने की कोशिश करते नजर आए.

ओबामा ने कहा कि अब वे अपना ज्यादातर वक्त युवाओं को अपने समुदाय के जुड़ने के लिए प्रेरित करने पर लगाएंगे. ओबामा से जब यह पूछा गया इस वक्त वह सबसे ज्यादा किस चीज के बारे में सोच रहे हैं तो मजाक भरे लहजे में उन्होंने जवाब दिया, "मैं सबसे ज्यादा समय यह सोचने पर लगा रहा हूं कि मैं अपनी अगली नौकरी के लिए सबसे जरूरी कौन सी चीज कर सकता हूं.”

इसके बाद ओबामा हमेशा की तरह थोड़ी देर रुके और फिर कहा, "सबसे जरूरी एक चीज जो मैं कर सकता हूं वो ये है कि किसी भी तरह अगली पीढ़ी के नेतृत्व को बदलती दुनिया में जिम्मेदारी लेने के लिए तैयार करूं.” इस दौरान ओबामा से सिर्फ छात्रों ने ही सवाल किये. पूर्व राष्ट्रपति ने पत्रकारों के सवाल स्वीकार नहीं किये.

ओबामा ने माना कि अमेरिकी समाज राजनीतिक तौर पर पहले से ज्यादा विभाजित हो चुका है. इस गहरे राजनीतिक विभाजन को दूर करने के लिए उन्होंने काफी काम भी किया. ओबामा के मुताबिक इसकी वजह पैसा है, "राजनीति में पैसे की वजह से साझा आधार खोजना मुश्किल से मुश्किल होता जा रहा है. वॉशिंगटन में होने वाली बहस को ऐसे खास हित प्रभावित करते हैं जो ज्यादातर अमेरिकियों की सोच मेल नहीं खाते हैं.”

दुनिया भर में बढ़ते तनाव को लेकर किये गए सवाल के जवाब में पूर्व राष्ट्रपति ने कहा कि वह भविष्य को लेकर बहुत ही ज्यादा आशावादी हैं. ओबामा ने छात्रों को नेतृत्व, नाकामी का सामना करने और सोशल मीडिया के लिये जरूरी टिप्स भी दिये. छात्रों का उत्साह बढ़ाते हुए उन्होंने कहा कि युवा ही देश की सबसे मुश्किल चुनौतियों को हल कर सकते हैं.

ट्रंप प्रशासन द्वारा ओबामा के कई फैसलों की बार बार आलोचना करने के बावजूद पूर्व राष्ट्रपति अब तक इन मुद्दों पर कुछ नहीं बोले हैं.

(देखिए ओबामा की मस्ती)

ओएसजे/एमजे (एपी, एएफपी, रॉयटर्स)

DW.COM

संबंधित सामग्री