1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

ओबामा के स्वागत में आम लोगों का प्रवेश बंद

आठ नवंबर को अमेरिकी राष्ट्रपति ओबामा भारतीय संसद में भाषण देंगे. इस मौके पर आम लोगों का प्रवेश बंद रहेगा. पूर्व सांसदों और खास मेहमानों को इस पाबंदी से बाहर रखा गया है.

default

नवंबर में भारत दर्शन

अमेरिकी राष्ट्रपति की अगवानी में संसद भवन के सुरक्षा तंत्र को भी मजबूत किया जा रहा है. संसद की सुरक्षा के लिए सुरक्षा एजेंसियां कमर कसने में जुट गई हैं. निगरानी के काम में अमेरिकी सुरक्षा एजेंसियां भी शामिल होंगी. जल्दी ही अमेरिकी सुरक्षाकर्मियों का दस्ता भारत पहुंचने वाला है.

सिर्फ सुरक्षा ही नहीं, संसद भवन की सजावट का काम भी जोरशोर से हो रहा है. संसद का सेंट्रल हॉल अमेरिकी राष्ट्रपति की अगवानी करने के लिए सज धज कर तैयार हो रहा है. आठ दशक पुराने गोलाकार हॉल के भीतर और बाहर गलियारे के एक एक कोने की सजावट में कर्मचारी जुट गए हैं. सेंट्रल हॉल को फिलहाल नई साज सज्जा के लिए बंद कर दिया गया है. ओबामा के आने से एक हफ्ते पहले सजावट का काम पूरा कर लिया जाएगा.

तय कार्यक्रम के मुताबिक अमेरिकी राष्ट्रपति 8 नवंबर को शाम पांच बजे संसद भवन पहुंचेंगे. ओबामा का भाषण करीब 20 मिनट का होगा. ओबामा से पहले उप राष्ट्रपति हामिद करजई स्वागत भाषण देंगे. धन्यवाद प्रस्ताव लोकसभा अध्यक्ष मीरा कुमार देंगी. राष्ट्रपति ओबामा संसद की डायरी गोल्डेन बुक में अपने दस्तखत भी करेंगे. इस दौरान उनके साथ उनकी पत्नी मिशेल ओबामा भी होंगी. मंच पर ओबामा, भारतीय उपराष्ट्रपति और लोकसभा अध्यक्ष के अलावा खुद प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह भी मौजूद रहेंगे. मिशेल ओबामा सामने की पहली कतार में बैठेंगी.

ब्रिटिश राज में बनवाया सेंट्रल हॉल 10 साल के बाद एक बार फिर ऐतिहासिक लम्हे का गवाह बनेगा. 2000 में भारत दौरे पर आए अमेरिकी राष्ट्रपति बिल क्लिंटन ने भी यहां भाषण दिया था.

रिपोर्टः एजेंसियां/एन रंजन

संपादनः ए कुमार

DW.COM

WWW-Links