1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

मनोरंजन

ओबामा के सामने, ऐ मेरी जोहरा जबीं तुझे मालूम नहीं

दिल्ली के 7 रेसकोर्स रोड पर भारतीय प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के घर के लॉन में झिलमिल रोशनी की कतारें जगमग कर रही थीं. संगीत की स्वरलहरियां और उनके बीच गूंजते विशेष मेहमानों के ठहाके उस जगह की हवा में घुले जा रहे थे.

default

ओबामा और मनमोहन

यह मौका था भारत के खास मेहमान के स्वागत का. मनमोहन सिंह ने अपने घर पर अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा और उनकी पत्नी मिशेल ओबामा के स्वागत में डिनर का आयोजन किया था.

इस मौके के खास बनाने के लिए ओबामा के प्रिय महात्मा गांधी के सबसे पसंदीदा भजन वैष्णव जन ते तेने कहिए जे... की धुन बजाई गई. भारतीय नौसेना और बीएसएफ के कैमल्स बैंड ने जब इस धुन को बजाया तो खुद को गांधी का अनुयायी बताने वाले ओबामा ध्यानमग्न से हो गए.

लेकिन जल्द ही माहौल बदल गया. क्योंकि वैष्णव जन के बाद गीत बजा... ऐ मेरी जोहरा जबीं, तुझे मालूम नहीं, तू अभी तक है हसीं और मैं जवां.... ओबामा के लिए वक्त फिल्म के इस गीत के मायने समझना आसान तो नहीं रहा होगा. लेकिन धुन उन्हें बेहद पसंद आई.

इस पार्टी के दौरान ओबामा प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और उनकी पत्नी गुरशरण कौर के साथ बैठे थे. इसी मेज पर भारतीय वित्त मंत्री प्रणब मुखर्जी, कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और कांग्रेस महासचिव राहुल गांधी भी मौजूद थे.

खाने की शुरुआत लजीज शोरबे के साथ हुई. मेन कोर्स में चिंगारा जम्मू प्रोंग, मछली और हरी मिर्ची गोश्त परोसा गया. साथ में काकोरी कबाब, मुगलई चिकन, गोभी, दाल दंपुख्त, पुलाव और रोटी भी थी. मीठे के बिना तो भारतीय खाना पूरा नहीं हो सकता था. लिहाजा अमेरिकी राष्ट्रपति को केसर फिरनी और मावा पोटी का स्वाद चखने को मिला.

इस हाई प्रोफाइल पार्टी में रक्षा मंत्री एके एंटनी, वित्त मंत्री पी चिदंबरम, विदेश मंत्री एसएम कृष्णा, कृषि मंत्री शरद पवार और बीजेपी नेता लाल कृष्ण आडवाणी और अरुण जेटली भी शामिल हुए.

भारत में अमेरिका के राजदूत टिमोथी जे रोएमर के अलावा केंद्रीय मंत्री आनंद शर्मा, पृथ्वीराज चव्हाण, सलमान खुरशीद, व्यापारी सैम पित्रोदा और योजना आयोग के उपाध्यक्ष मोंटेक सिंह अहलूवालिया ने भी ओबामा के साथ भोजन का आनंद लिया.

बॉलीवुड से आमिर खान और शबाना आजमी और जावेद अख्तर मेहमानों की फेहरिस्त का हिस्सा थे. भारत के शतरंज चैंपियन विश्वनाथन आनंद और पर्यावरण कार्यकर्ता सुनीता नारायण को भी बराक ओबामा से मिलने का मौका मिला. इस पार्टी से पहले भारत के प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और अमेरिकी राष्ट्रपति ने बंद कमरे में करीब 25 मिनट तक बातचीत की.

रिपोर्टः एजेंसियां/वी कुमार

संपादनः एमजी

DW.COM

WWW-Links