1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

मनोरंजन

ओबामा के भाई की आत्मकथा

अमेरिका जैसे शक्तिशाली देश के राष्ट्रपति के भाई को कैसा लगता है. बराक ओबामा के सौतेले भाई ने अपनी आत्मकथा में अपनी भावनाओं और घरेलू हिंसा की कुछ घटनाओं का जिक्र किया है.

एक ही पिता के दो बेटे बराक ओबामा और मार्क ओबामा डीसांजजो. बराक ओबामा अमेरिका के हवाई प्रांत में पैदा हुए जबकि डीसांजजो दूसरी मां से अफ्रीका के केन्या में. मार्क की मां जब उनके पिता से मिलीं तब वे हार्वर्ड विश्वविद्यालय में पढ़ाई कर रहे थे और उससे पहले ही बराक ओबामा की मां से तलाक ले चुके थे.

ओबामा के सौतेले भाई डीसांजजो ने अपनी आत्मकथा में लिखा कि कैसे उनके स्वर्गीय पिता परिवार के साथ दुर्व्यवहार करते थे. फरवरी में प्रकाशित होने वाली इस किताब में उन्होंने बताया है कि उनके पिता शराब के नशे में धुत होकर मां को पीटा करते. किताब में एक ऐसी घटना का भी जिक्र है जब किसी बात पर रोक टोक से चिढ़ कर उनके पिता ने मां के गले पर चाकू तक भिड़ा दिया था.

मार्क ओबामा डीसांजजो ने लिखी है आत्मकथा

एक गोरा, एक काला

मार्क ने अपनी नई किताब "कल्चर्स: माई ओडिसी ऑफ सेल्फ डिस्कवरी" में अपने भाई बराक के साथ पिछले कई सालों में हुई कुछ मुलाकातों का ब्योरा भी दिया है. दोनों भाइयों की पहली मुलाकात 1988 में हुई जब बराक ओबामा केन्या गए. मार्क कहते हैं कि वो मुलाकात बहुत प्रगाढ़ या अच्छी नहीं कही जा सकती लेकिन यादगार जरूर थी.

"बराक को लगा कि मैं बहुत गोरा हूं और मैंने सोचा कि वो काफी काला," मार्क कहते हैं, "वे एक अमेरिकी थे जो अपनी अफ्रीकी जड़ें तलाश रहे थे. मैं केन्या का रहने वाला हूं, मैं एक ऐसा अमेरिकी था जो केन्या में रहता था और अमेरिका से अपना संबंध ढूंढ रहा था."

हिसाब बराबर करने की कोशिश

कई ऐसी बातों पर मार्क ने सिक्के का दूसरा पहलू पेश किया है जिन्हें बराक ओबामा ने 1995 में प्रकाशित अपने संस्मरण, "ड्रीम्स फ्रॉम माई फादर" में लिखा है. इस संस्मरण में बराक ने बताया कि कैसे उन्होंने 1982 में अपने पिता की एक कार दुर्घटना में मृत्यु के बाद उनके बारे में और जानने की कोशिश की. अपनी 500 पन्नों वाली इस नई किताब में मार्क ने एक अतिरिक्त सूची बनाई है जिसमें बराक ओबामा की किताब में मौजूद बहुत सी तथाकथित गलतियों का ब्योरा दिया गया है. "ये गलतियां ठीक करने की एक कोशिश है. बराक की किताब में लिखी बहुत सी बातें मेरे हिसाब से गलत थीं. बराक के लिए वो किताब लेखन के साथ साथ अपनी पहचान ढूंढने का एक औजार थी."

मार्क अमेरिकी राष्ट्रपति के साथ अपने संबंधों के बारे में कहते हैं, "अभी संबंध ठंडे हैं और काफी हद तक इसकी वजह मेरा लेखन है. इसकी वजह से मेरे परिवार के बहुत से लोग मुझसे अलग थलग हो गए हैं."

आरआर/एजेए (एपी)

DW.COM