1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

ओबामा के दौरे में आतंकवाद टॉप एजेंडा

अगले हफ्ते अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा के भारत दौरे में आंतकवाद के खिलाफ सहयोग अहम प्राथमिकता रहेगा. ओबामा अपने भारत दौरे की शुरुआत मुंबई के ताज होटल से करेंगे जो 26 नवंबर 2008 को हमलों में निशाना बना.

default

व्हाइट हाउस के प्रवक्ता रॉबर्ट गिब्स ने बताया, "हमारा पहला कदम एक कार्यक्रम होगा जिसमें मुंबई हमलों में मारे गए लोगों को याद किया जाएगा. भारतीय सेना के साथ हमारा बहुत अच्छा सहयोग है, लेकिन अब हम उसके साथ सैन्य अभ्यासों को और बढ़ाएंगे. आतंकवाद से निपटने और इसी तरह के अन्य विषयों पर आपसी सहयोग बहुत मायने रखता है. इन्हीं सब बातों पर राष्ट्रपति ओबामा और प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह चर्चा करेंगे."

इस बीच अमेरिका में भारत के राजदूत टिमोथी रोएमर ने कहा है कि दोनों देशों के बीच आतंकवाद से निपटने के मुद्दे पर सहयोग जारी रहेगा और डेविड हेडली के मुद्दे से दोनों देशों के रिश्तों पर असर नहीं पड़ेगा. भारत का आरोप रहा है कि मुंबई के आतंकवादी हमलों से जुड़े पाकिस्तानी मूल के अमेरिकी नागरिक हेडली के बारे में उसे पर्याप्त जानकारी नहीं दी गई है.

NO FLASH Anschläge Mumbai Indien 2008

पहला कदम ताज होटल में

रोएमर ने भारत की चिंताओं के मद्देनजर यह भी कहा कि पाकिस्तान को मिलने वाली अमेरिकी मदद पर नजर रखी जाएगी. हाल ही में अमेरिका ने पाकिस्तान को दो अरब डॉलर की मदद देने का एलान किया है. भारत हमेशा इस बात को लेकर फिक्रमंद रहा है कि आतंकवाद से लड़ने के नाम पर अमेरिका से मिलने वाली मदद को पाकिस्तान भारत के खिलाफ इस्तेमाल करता है.

वहीं गिब्स का कहना है, "एशिया और भारत तेजी से वृद्धि कर रहे हैं. भारत दुनिया का सबसे बड़ा लोकतंत्र है. इसकी अर्थव्यवस्था तेजी से प्रगति कर रही है. हमारे निवेश और साझेदारी से निर्यात बढ़ाने और नौकरियों के अवसर पैदा करने में मदद मिल रही है." राष्ट्रपति ओबामा के भारत दौरे में आर्थिक मुद्दों पर भी प्रमुखता से चर्चा होगी.

रिपोर्टः एजेंसियां/ए कुमार

संपादनः एन रंजन

DW.COM

WWW-Links