1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

ओबामा की यात्रा से भारत अमेरिकी सबंध मजबूत होंगेः क्लिंटन

अमेरिकी विदेश मंत्री हिलेरी क्लिंटन ने कहा है कि राष्ट्रपति बराक ओबामा के भारत दौरे से दोनों देशों के संबंधों में मजबूती आएगी. हिलेरी ने कहा कि ओबामा भारत जाकर आपसी रिश्तों की वो बुनियाद रखेंगे जो सदा कायम रहेगी.

default

भारत को दुनिया का सबसे तेजी से उभरता असरदार देश मानने वाली हिलेरी क्लिंटन ने कहा कि नवंबर में भारत दौरे पर जा रहे ओबामा दोनों देशों के रिश्तों को नया आयाम देंगे. विदेश मामलों की एक काउंसिल में बोलते हुए हिलेरी ने कहा कि चीन और भारत के साथ संबंधों को मजबूत करना ओबामा प्रशासन की प्राथमिकता में है क्योंकि ये दोनों आने वाले दिनों में दुनिया के सबसे असरदार देशों में होंगे.

USA Präsident Barack Obama Infrastruktur

नवंबर में भारत आएंगे ओबामा

क्लिंटन ने कहा कि अमेरिका उन सभी देशों से बेहतर तालमेल कायम करने की कोशिश कर रहा है जो तेजी से उभर रहे हैं. इन देशों में भारत और चीन के अलावा तुर्की, मेक्सिको, ब्राजील, इंडोनेशिया, दक्षिण अफ्रीका और रूस भी हैं. इनके साथ आपसी रिश्तों की मजबूती को अहम बताते हुए हिलेरी ने ये भी कहा कि अमेरिका को उम्मीद है कि आने वाले दिनों में ये देश बड़ी जिम्मेदारी उठाएंगे.

भारत के बारे में हिलेरी ने कहा, " भारत दुनिया का सबसे बड़ा लोकतंत्र है जहां राष्ट्रीय और स्थानीय स्तरों पर हितों का बंटवारा होने के बावजूद बुनियादी मामलों में बड़ी समानताएं हैं और ऐसे देश के साथ अमेरिका कभी खत्म न होने वाला रिश्ता बनाने जा रहा है." विदेश मंत्री ने कहा कि ओबामा नवंबर की भारत यात्रा के दौरान दोनों देशों के रिश्तों को एक नई ऊंचाई पर ले जाएंगे.

क्लिंटन ने ये भी कहा कि हर जगह के लोगों को अब पूरी दुनिया के बारे में सोचने की जरूरत है क्योंकि 21वीं सदी में ताकत का मतलब है सबकी समस्याओं को दूर करने में साझीदार बनना. इस पूरी कवायद के कुछ खास नियम होंगे जिन पर चलकर ही इसे हासिल किया जा सकेगा अब चाहे ये बुनियादी अधिकारों का मसला हो या फिर कुछ और.

रिपोर्टः एजेंसियां/ एन रंजन

संपादनः ओ सिंह

DW.COM

WWW-Links