1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

ओबामा अब्बास भेंट, 40 करोड़ डॉलर की सहायता

अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने वॉशिंगटन में फ़लीस्तीनी राष्ट्रपति महमूद अब्बास के साथ भेंट के बाद ग़ज़ा विवाद के समाधान की अपील की और ग़ज़ा के लिए 40 करोड़ डॉलर की सहायता की घोषणा की है.

default

ओबामा ने कहा कि 40 करोड़ डॉलर की वित्तीय सहायता फ़लीस्तीनी क्षेत्रों की असैनिक जनता के लिए होगी. मिसाल के तौर पर उन्होंने रिहायशी घरों और स्कूलों का नाम लिया. ग़ज़ा की मानवीय स्थिति को राष्ट्रपति ने अस्वीकार्य बताया. फ़लीस्तीनी राष्ट्रपति महमूद अब्बास ने इस्राएल ने ग़ज़ा की नाकेबंदी समाप्त करने की मांग की.

Nahrungsmittel werden in den Gaza Streifen gebracht UNRWA

राष्ट्रपति ओबामा ने बुधवार को वाशिंग्टन में कहा कि इस्राएल की सुरक्षा में कमी के बिना ग़ज़ा पट्टी की जनता के लिए बेहतर आपूर्ति का एक रास्ता निकलना चाहिए. उन्होंने कहा, "यथास्थिति मौलिक रूप से अस्थिर है और मैं मानता हूं कि इस्राएली इस बात को समझने लगे हैं." ओबामा ने कहा कि इस्राएली नाकेबंदी की समाप्ति के लिए ज़रूरी है कि ग़ज़ा पट्टी में हथियारों की आपूर्ति न हो.

इस्राएल ने तीन साल से जारी नाकेबंदी में कुछ ढ़ील देने की घोषणा की है. कट्टरपंथी इस्लामी संगठन हमास द्वारा ग़ज़ा पट्टी पर कब्जा किए जाने के बाद इस्राएल ने उसकी नाकेबंदी कर दी थी.

इस्राएल द्वारा अंतरराष्ट्रीय ग़ज़ा एकजुटता बेड़े पर हमले और उसमें 9 लोगों की मौत के बावजूद ओबामा इस्राएलियों और फ़लीस्तीनियों को वार्ता की मेज़ पर लाने का प्रयास जारी रखना चाहते हैं. राष्ट्रपति ने कहा, "दूरगामी रूप से समस्या के समाधान का एकमात्र रास्ता यह है कि एक सुरक्षित इस्राएली राज्य के साथ एक फ़लीस्तीनी राज्य हो." फ़लीस्तीनी राष्ट्रपति महमूद अब्बास ने कहा कि उनकी ओर से सीधी बातचीत शुरू करने की कोई शर्त नहीं है. यदि मध्यस्थता में प्रगति होती है तो "हम सीधी बातचीत शुरू करेंगे."

अमेरिकी राष्ट्रपति ओबामा ने ग़ज़ा सहायता बेड़े पर इस्राएली हमले की स्वतंत्र जांच की मांग दुहराई. उन्होंने कहा कि यह इस्राएल के भी हित में है.

रिपोर्ट: एजेंसियां/महेश झा

संपादन: एस गौड़

संबंधित सामग्री