1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

ऑस्ट्रेलियाई टीम के पूर्व कप्तान का कटा पत्ता

ऑस्ट्रेलिया की राष्ट्रीय फुटबॉल टीम के पूर्व कप्तान लुकास नील को विश्व कप के लिए बनी टीम में जगह नहीं मिली है. टीम के कोच का कहना है कि नील के पास ना तो फॉर्म है और ना ही फिटनेस जिससे उन्हें ब्राजील ले जाया जा सके.

ऑस्ट्रेलिया के लिए 96 मैच खेल चुके 36 वर्षीय लुकास नील के लिए यह फैसला अंतरराष्ट्रीय करियर की समाप्ति का संकेत हो सकता है. हालांकि नील पहले ही कह चुके हैं कि वह ऑस्ट्रेलिया में अगले साल होने वाले एशियन कप टूर्नामेंट में खेलने का पक्का इरादा रखते हैं. ऑस्ट्रेलिया टीम के कोच अंगेलोस पोस्टेकोग्लो का कहना है कि विश्व कप के लिए संभावित 30 सदस्यों वाली टीम में नील का चयन न करना आसान नहीं था. साथ ही उन्होंने कहा कि वह इस बात से आश्वस्त नहीं थे कि डिफेंडर सबसे बड़े टूर्नामेंट अपना बेहतर प्रदर्शन दे पाएंगे. पोस्टेकोग्लो ने कहा, "जाहिर है वह बहुत निराश थे." टीम के कोच आधिकारिक तौर पर संभावित खिलाड़ियों के नाम के एलान के एक हफ्ते पहले ही अपना फैसला नील को बता चुके थे. पोस्टेकोग्लो का कहना है, "वह काम बहुत मुश्किल था. उन्होंने खुद को तैयार करने और उपलब्ध करने के लिए कड़ी मेहनत की थी. उन्होंने इस विश्व कप में जाने के लिए बहुत पक्का इरादा किया था. मैंने जो फैसला किया है वह हाल के इतिहास के बजाय पिछले 6 महीनों को देखकर किया है."

पोस्टेकोग्लो अपने फैसले को सही बताते हुए कहते हैं, "फॉर्म और फिटनेस के मामले में इतने सबूत नहीं थे कि वह मुझे यह बता पाएं कि नील विश्व कप में अपना बढ़िया प्रदर्शन दे पाएंगे."

माना जा रहा है कि क्रिस्टल पैलेस की तरफ से खेलने वाले मिडफील्डर मिले जेडिनाक या टिम केहिल को कप्तानी के लिए चुना जा सकता है. ऑस्ट्रेलिया के ग्रुप में नीदरलैंड्स, चिली और स्पेन हैं.

नील ने 1996 में अपनी अंतरराष्ट्रीय करियर की शुरुआत की थी. 60 बार ऑस्ट्रेलियाई टीम का नेतृत्व करने वाले नील पिछले साल जापान से मुकाबले के बाद से खराब फॉर्म से जूझ रहे थे. आखिरकार उन्होंने फरवरी में इंग्लिश चैंपियनशिप टीम वॉटफोर्ड के साथ जुड़ने का फैसला किया.

एए/एएम (एपी, रॉयटर्स)

संबंधित सामग्री