1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

ऑस्ट्रेलियाई ओपन के सेमीफाइनल में फेडरर

स्विट्जरलैंड के रोजर फेडरर लगातार आठवीं बार ऑस्ट्रेलियाई ओपन ग्रैंड स्लैम टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में पहुंच गए हैं. क्वॉर्टर फाइनल में फेडरर ने हमवतन स्तेनीस्लास वावरिंका को बिना किसी मुश्किल के सीधे सेटों में हराया.

default

दुनिया के दूसरे नंबर के खिलाड़ी फेडरर ने वावरिंका को हराने में सिर्फ 1 घंटे 47 मिनट का समय लिया और 6-1, 6-3, 6-3 से शिकस्त दी. सेमीफाइनल में फेडरर का मुकाबला अब सर्बिया के नोवाक जोकोविच और चेक रिपब्लिक के टोमास बर्डिच के बीच खेले जाने वाले मैच के विजेता से होगा. जोकोविच 2008 में ऑस्ट्रेलियाई ओपन जीत चुके हैं.

फेडरर ने लगातार 15 मैचों में जीत हासिल की है और ऑस्ट्रेलियाई ओपन में यह उनका 59वां मैच है जिसमें वह विजयी बनकर उभरे. जीत के बाद फेडरर ने कहा, "मुझे अच्छे प्रदर्शन की जरूरत थी और मैं स्टेन के साथ कई प्रैक्टिस मैच खेल चुका हूं. इसलिए मुझे उनके खेलने के अंदाज का पता है. शुरुआत बेहद अहम थी. जिस तरह से मैंने खेला उससे मैं बेहद खुश हूं."

फेडरर और वावरिंका ने ही 2008 बीजिंग ओलंपिक में स्विट्जरलैंड के लिए स्वर्ण पदक जीता. शुरुआत से ही फेडरर मैच पर हावी हो गए और उन्होंने वावरिंका की सर्विस पांच बार तोड़ी. पहली सर्व पर फेडरर की सफलता का प्रतिशत 72 फीसदी रहा और जबकि दूसरी सर्व पर उन्होंने 76 फीसदी प्वाइंट हासिल किए यानी वावरिंका को मौके ही नहीं मिल पाए.

वहीं महिला वर्ग में वर्ल्ड नंबर वन कैरोलाइन वोजनियाकी ने पहला सेट हारने के बावजूद मैच में वापसी करते हुए इटली की फ्रैंसेसा शियावोने को हरा कर सेमीफाइनल में जगह बनाई. वोजनियाकी ने शियावोने को 3-6, 6-3, 6-3 से मात दी. दो दिन पहले ही शियावोने ने महिला ग्रैंड स्लैम के इतिहास के सबसे लंबे मैच में स्वेतलाना कुज्नेत्सोवा को हराया लेकिन वोजनियाकी के सामने शियावोने पहला सेट जीतने के बावजूद कमाल नहीं दिखा सकी.

सेमीफाइनल में वोजनियाकी का मुकाबला चीन की ली ना से होगा जिन्होंने जर्मनी की आंद्रेया पेटकोविच को 6-2, 6-4 से हराया.

रिपोर्ट: एजेंसियां/एस गौड़

संपादन: आभा एम

DW.COM