1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

ऑस्ट्रेलियन ओपन: क्या इतिहास बना पाएंगे नडाल

ऑस्ट्रेलियन ओपन, इस साल का यह पहला खिताब दिलचस्प ढंग से शुरू होने जा रहा है. नडाल इतिहास बनाने के करीब हैं लेकिन उनकी राह में घायल शेर रोजर फेडरर और उलटफेरू सोडरलिंग या मरे बैठे हुए हैं.

default

मेलबर्न 99वें ऑस्ट्रेलियन ओपन के लिए तैयार है. शनिवार को खिलाड़ियों की परेड निकलेगी. पुरुष खिलाड़ियों की अगुवाई स्पेन के रफाएल नडाल करेंगे जबकि महिलाओं में आगे टॉप सीड कारोलिन वोत्सनिआकी होंगी. इन्हीं दोनों के पीछे फेडरर, जोकोविच, एंडी मरे, जस्टिन हेनिन हार्डिन और मारिया शारापोवा जैसे खिलाड़ी होंगे.

टूर्नामेंट में इस बार सबकी नजरें स्पेन के रफाएल नडाल पर होंगी. अगर नडाल इस बार ऑस्ट्रेलियन ओपन जीतते हैं तो वह 42 साल बाद ऐसे पहले खिलाड़ी होंगे जो लाइन से चारों बड़े खिताब जीतेंगे. लेकिन राह इतनी आसान नहीं हैं. रोजर फेडरर पहले ही कह चुके हैं कि ऑस्ट्रेलियन ओपन में वह पूरी ताकत लगा देंगे. फेडरर इसे अपने आखिरी मौके की तरह देख रहे हैं.

Juan Martin del Potro US Open Tennis

मेलबर्न पहुंचे नडाल से इस बारे में काफी सवाल पूछे जा रहे हैं. इनके जबाव में स्पेनिश स्टार कहते हैं, ''कभी आप अच्छी शुरुआत करते हैं और कभी नहीं. इस वक्त मैं यह नहीं कह सकता कि मैं तैयार हूं या नहीं.''

महिलाओं का मुकाबला भी दिलचस्प होने वाला है. शीर्ष वरीयता प्राप्त वोत्सनिआकी का सामना जस्टिन हेनिन के साथ विलियम्स बहनों से हो सकता है. किम क्लाइसटर्स को पहले ही दौर में साफिना से भिड़ना है. इन पुराने नामों को फिलहाल कोई नई खिलाड़ी चुनौती देती नहीं दिखाई पड़ रही हैं.

वहीं भारतीय टेनिस खिलाड़ी सानिया मिर्जा ने भी टूर्नामेंट में जगह बना ली है. महिलाओं के क्वालिफायर में उन्होंने कुरयाकोविच को 6-4, 6-2 से हरा दिया. लेकिन आगे उनसे बहुत ज्यादा उम्मीद नहीं की जा रही है. लंबी तकरार के बाद अब साथ खेल रहे महेश भूपति और लिएंडर पेस भी मेलबर्न का खिताब जीतने की ख्वाहिश पाले हुए हैं. हाल ही में दोनों की जोड़ी चेन्नई ओपन अपने नाम कर चुकी है.

रिपोर्ट: एजेंसियां/ओ सिंह

संपादन: आभा एम

DW.COM

WWW-Links