1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

ऑल पार्टी मीटिंग में जाएगी बीजेपी

भारतीय संसद में चल रहे गतिरोध को खत्म करने के लिए बीजेपी ने पहला कदम उठाया. लोकसभा स्पीकर मीरा कुमार की बुलाई गई सभी पार्टियों की बैठक में बीजेपी हिस्सा लेगी. 2जी स्पेक्ट्रम घोटाले के वजह से संसद नहीं चल पा रही है.

default

बैठक में हिस्सा लेंगेः सुषमा

लोकसभा स्पीकर मीरा कुमार ने 30 दिसंबर गुरुवार को सभी पार्टियों की बैठक बुलाई है, जिसमें चर्चा होगी कि किस तरह संसद में जारी गतिरोध को खत्म किया जा सके. 2जी स्पेक्ट्रम घोटाले की वजह से भारत में शीतकालीन सत्र के दौरान संसद की कार्यवाही नहीं चल पाई है.

यह दूसरा मौका है, जब मीरा कुमार ने इस मुद्दे पर सभी पार्टियों के साथ लाने की कोशिश की है. इससे पहले उनकी कोशिश नाकाम रही है.

बीजेपी लंबे वक्त से टेलीकॉम घोटाले पर संयुक्त संसदीय समिति यानी जेपीसी बनाने की मांग कर रही है, लेकिन यूपीए सरकार ने इसे स्वीकार नहीं किया है. हालांकि प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह अपनी पहल पर लोक लेखा समिति (पीएसी) के सामने पेश होने को तैयार हैं.

लोकसभा में विपक्ष की नेता सुषमा स्वराज ने इस बात की पुष्टि की है कि बीजेपी सर्वदलीय बैठक में हिस्सा लेगी. हालांकि उन्होंने एक बार फिर कहा कि मामले की जांच के लिए जेपीसी ही बनाई जानी चाहिए और प्रधानमंत्री का पीएसी के सामने पेश होना कोई मायने नहीं रखता है.

सुषमा स्वराज का कहना है, "लोकसभा के नियमों के तहत पीएसी किसी मंत्री को भी नहीं बुला सकता है. प्रधानमंत्री की तो बात ही छोड़िए. ऐसे में पीएम का पेश होना कोई मतलब नहीं रखता है."

हालांकि बीजेपी के वरिष्ठ नेता और पीएसी के अध्यक्ष मुरली मनोहर जोशी इस बात से एकराय नहीं रखते हैं. वह पहले ही कह चुके हैं कि पीएसी सही समय पर सही फैसला करेगा.

रिपोर्टः एजेंसियां/ए जमाल

संपादनः ए कुमार

DW.COM

WWW-Links