1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

ऐसे बात करते हैं, जैसे मैं कुत्ता हूं: ओबामा

अपने विरोधियों की धज्जियां उड़ाते हुए अमेरिकी राष्ट्रपति ओबामा ने कहा है, "मेरे बारे में वे ऐसे बात करते हैं, मानो मैं कुत्ता हूं." पर कांग्रेस के महत्वपूर्ण चुनाव से पहले उनकी पार्टी की स्थिति अच्छी नहीं दिख रही है.

default

मुझे वे कुत्ता समझते हैं

नवंबर में अमेरिकी प्रतिनिधि सभा की सभी 435 सीटों व सेनेट की 100 में से 37 सीटों के लिए चुनाव होने वाले हैं. सर्वेक्षणों के अनुसार ओबामा की डेमोक्रेटिक पार्टी प्रतिनिधि सभा में अपना बहुमत खो सकती है और सेनेट में भी उसकी सीटें घटने वाली हैं. इसका मुख्य कारण अर्थव्यवस्था की खस्ता हालत है . अमेरिका में इस समय बेरोजगारी की दर 9.6 फीसदी तक पहुंच चुकी है. साल के आरंभ में मामूली उछाल के बाद आर्थिक वृद्धि की गति फिर से धीमी हो गई है और इस समय 1.6 फीसदी के आसपास है.

ऐसी हालत में चुनाव अभियान का बिगुल बजाते हुए राष्ट्रपति ओबामा ने अपने पुराने नारे को फिर से दोहराया है, "येस, वी कैन !"

संघीय प्रदेश विसकोंसिन में ट्रेड युनियन की एक रैली को संबोधित करते हुए बराक ओबामा ने कहा कि प्रतिद्वंद्वी रिपब्लिकन पार्टी उनके कार्यक्रम में लगातार रोड़े अटका रही है, जिस पर अमल के लिए वे चुने गए थे. कामगारों के सामने उन्होंने कहा, "अगर में कहूं कि आसमान नीला है, वे कहते हैं नहीं. अगर मैं कहूं कि मछलियां पानी में होती हैं, वे कहते हैं नहीं."

ओबामा की व्यक्तिगत लोकप्रियता भी काफी घट चुकी है और अधिकतर सर्वेक्षणों में वह पचास प्रतिशत से नीचे है. हालांकि उन्हें अपना स्वास्थ्य सुधार कार्यक्रम पारित करवाने में सफलता मिली है, लेकिन यह कार्यक्रम नागरिकों के बीच लोकप्रिय नहीं हो सका है. इसी प्रकार वित्तीय सुधार और सरकारी हस्तक्षेप के जरिए अमेरिकी मोटर गाड़ी उद्योग को बचाने में भी वह सफल रहे हैं. लेकिन आम अमेरिकी नागरिक सरकार के अधिकार क्षेत्रों में वृद्धि से नाराज है.

कांग्रेस के लिए चुनाव अभियान शुरू हो चुका है. ओबामा ऐसे अभियान में माहिर है, लेकिन इस बार उनके लिए कड़ी चुनौती है.

रिपोर्ट: एजेंसियां/उभ

संपादन: ए कुमार

DW.COM

WWW-Links

संबंधित सामग्री