1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

विज्ञान

ऐप ढूंढ देगा चाभियां और बटुआ

गुम चाभियां, पर्स और बटुओं को ढूंढना आसान होने वाला है. एक नया एप आया है जो अंदाज से बताएगा कि आपने चाभी या बटुआ कहां रखा हो सकता है. तो ऑफिस जाने से पहले की अफरातफरी थोड़ी कम हो सकेगी.

टाइल नाम का ऐप सिर्फ आईफोन्स के लिए बनाया गया है. यह वॉलेट, कार और खोए हुए पालतू जानवरों को भी ट्रैक कर सकता है. यह एक बैटरी वाला छोटा प्लास्टिक का चौकौन टैग है जिसे आप चाभी में, पर्स में, कंप्यूटर पर या मोबाइल पर भी, कहीं भी लगा या बांध सकते हैं. ये आपकी गुमी हुई चीज की लोकेशन बता देगा. इतना ही नहीं ये टैग ध्वनि संकेत भी दे सकता है जिससे चीजों को आसानी से ढूंढा जा सकता है. कैलिफोर्निया के सैन मातेओ में टाइल बनाने वाले मुख्य कार्यकारी अधिकारी निक इवान्स ने बताया, "इतनी तकनीक होने के बाद भी आश्चर्य होता है कि हम अभी भी इतनी चीजें खो देते हैं."

ब्लूटूथ के जरिए ये ऐप 15 से 30 मीटर की दूरी में खोई चीजों की लोकेशन का पता लगा सकता है. अगर कुछ रास्ते में चोरी हो गया है तो उसकी लास्ट लोकेशन पता लगाई जा सकती है. क्राउडसोर्सिंग के जरिए दूसरे टाइल ऐप यूजर की नजरों में अगर खोई कार या साइकल आए, तो वह साइकिल की आखिरी लोकेशन बता सकते हैं.

इसी तरह से चिपोलो नाम का ऐप आईफोन और एंड्रॉयड दोनों के लिए काम करता है. इसके टैग नेकलेस, ब्रेसलेट या फिर कीचेन पर लगाए जा सकते हैं. यूजर को तब अलार्म सुनाई देता है जब इनमें से कोई चीज रेंज के बाहर चली जाए. इसे विकसित करने वाली टीम के तादेच येवसेवार बताते हैं, "जापान में कुछ लोग चिपोलो मैदान में खेल रहे अपने बच्चों पर लगा देते हैं, ताकि जैसे ही वो इधर उधर हों अलार्म बज जाए. अगर किसी का स्मार्ट फोन खो जाए तो चिपोलो टैग को हिला कर फोन का पता लगाया जा सकता है, इससे फोन की घंटी बजने लगेगी, भले ही ये साइलेंट मोड में रखा हुआ हो.

दोनों ही ऐप दुनिया भर में खरीदे जा सकते हैं. वॉटरप्रूफ टाइल टैग की कीमत 19,99 डॉलर है जबकि चिपोलो 29.99 डॉलर का मिलता है और इसके साथ बैटरी भी मिलती है.

एएम/एमजी (रॉयटर्स)

DW.COM

संबंधित सामग्री