1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

एशेज में ऑस्ट्रेलिया से युद्ध होगा: एंड्र्यू स्ट्रॉस

एशेज सीरीज से पहले इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया में वाकयुद्ध शुरू हुआ. पोटिंग को जवाब देते हुए इंग्लैंड के कप्तान एंड्रूय स्ट्रॉस ने कहा, एशेज में खेल नहीं युद्ध होगा. 11 विजेता होंगे और 11 नाकाम खिलाड़ी. मुकाबला 26 दिन दूर.

default

एशेज के लिए लंदन में रणभेरी फूंकते हुए इंग्लिश कप्तान एंड्र्यू स्ट्रॉस ने ऑस्ट्रेलिया को खुली चुनौती दी. स्ट्रॉस ने कहा कि उनकी टीम एशेज के लिए पूरी तरह तैयार है. उन्होंने साफ किया कि उनकी टीम ऑस्ट्रेलिया दोस्ती बढ़ाने कतई नहीं जा रही है. 33 साल के स्ट्रॉस ने कहा, ''ये तय है कि आखिर के पांचवे मैच तक दोनों टीमों के बीच युद्ध जैसी स्थिति होगी.''

दबाव और चुनौती की जिक्र करते हुए स्ट्रॉस ने कहा कि एक टीम को हार की जलालत झेलनी ही होगी. उन्होंने कहा, ''दोनों टीमों को पता है कि सीरीज के अंत तक 11 खिलाड़ी हीरो बनेंगे और 11 नाकाम रहेंगे. हमारा कोई मूड नहीं है कि आखिरी टेस्ट तक दोस्ताना अंदाज का अंदाज का परिचय दिया जाए. हमारा काम उन्हें हराना है.''

Ricky Ponting

पिछले 26 साल में इंग्लैंड ऑस्ट्रेलिया में सिर्फ तीन बार एशेज सीरीज जीता है. लेकिन इस बार इंग्लैंड के कॉलिनवुड, मोर्गन, केविन पीटरसन, जेम्स एडंरसन, स्वान और स्टुवर्ट ब्रॉड जैसे खिलाड़ी फॉर्म में हैं. इससे गदगद स्ट्रॉस कहते हैं, ''ऐसा नहीं है कि हम ऑस्ट्रेलिया के लोगों से नफरत करते हैं. हमारा मकसद सिर्फ वहां जाकर मैदान पर जाकर दूसरे 11 लड़कों को चित करना है.''

वहीं भारत के हाथों करारी हार झेलने के बाद ऑस्ट्रेलियाई टीम का मनोबल टूटा हुआ है. इंग्लैंड ने पिछले साल अपनी धरती पर 2-1 से एशेज सीरीज जीती थी. उस हार ने ऑस्ट्रेलियाई कप्तान रिकी पोटिंग को खासा झल्ला दिया था. यही वजह है कि पोंटिंग भी पूरी तैयारी के साथ मनोवैज्ञानिक वाकयुद्ध छेड़े हुए हैं. उन्होंने इंग्लैंड को चेतावनी देते हुए कहा है कि अगर स्ट्रॉस की टीम ने ऑस्ट्रेलिया को हल्के में लिया तो उन्हें बेदम करके वापस भेजा जाएगा.

रिपोर्ट: एजेंसियां/ओ सिंह

संपादन: आभा एम

DW.COM

WWW-Links