1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

एशेज: ऑस्ट्रेलिया के सिर पर नाचा इंग्लैंड

मेलबर्न टेस्ट में इंग्लैंड के बल्लेबाजों ने ऑस्ट्रेलिया की हार करीबन तय कर दी है. दूसरे दिन जोनाथन ट्रॉट और मैट प्रायर ने कंगारुओं को धुनते हुए अपनी टीम को 444 तक पहुंचा दिया. इंग्लैंड को अब तक 346 रन की बढ़त मिली.

default

शुरुआती सत्र ऑस्ट्रेलिया के लिए मौसमी बुखार में मिली थोड़ी देर की राहत जैसा रहा. सुबह सुबह तेज गेंदबाज पीटर सिडल ने कप्तान एंड्र्यू स्ट्रॉस और एलिस्टर कुक की शतकीय जोड़ी तोड़ दी. इंग्लैंड सिर्फ दो ही रन जोड़ सका था कि कुक का विकेट निकाल दिया. कुक ने 81 रन बनाए.

दस मिनट के भीतर सिडल ने विपक्षी कप्तान को भी किनारे कर दिया. इसके बाद क्रीज पर जोनाथन ट्रॉट और केविन पीटरसन के कदम पड़े. दोनों ने संभलकर बल्लेबाजी की और तीसरे विकेट के लिए 92 रन की साझेदारी हुई. इन चुनौती को फिर से सिडल ने खत्म किया. उन्होंने केपी के पैड्स में गेंद मारी. पीटरसन मिडिल स्टंप के सामने से हिल भी न पाए और 51 रन बनाकर पैवेलियन लौटे.

यहां से रिकी पोंटिंग ने फिर अपनी टीम को संभालने की कोशिश की. मिचेल जॉनसन ने पॉल कॉलिंगवुड और इयान बेल को फटाफट आउट कर वापसी की उम्मीदें जगा दी. 286 पर पांच विकेट खोने के बाद ट्रॉट का साथ देने विकेटकीपर मैट प्रायर आए. बस, इसके बाद कंगारुओं की एक न चली. ट्रॉट ने टेस्ट करियर का पांचवां शतक जड़ा. प्रायर के साथ मिलाकर वह बढ़त की मीनार को ऊंचा करते गए. इन दोनों ने दूसरे दिन इंग्लैंड को और कोई झटका नहीं लगने दिया और स्कोर को पांच विकेट पर 444 रन तक पहुंचा दिया. ट्रॉट 141 और प्रायर 75 पर नॉट आउट हैं.

इस तरह पहली पारी के आधार पर इंग्लैंड को अब तक ऑस्ट्रेलिया पर 346 रन की विशाल बढ़त मिल चुकी है. तीन दिन का खेल बाकी है. माना जा रहा है कि मेहमान टीम मंगलवार दोपहर तक 450 की बढ़त हासिल करने की सोचेगी और फिर पोंटिंग ब्रिग्रेड को पैदल करेगी.

रिपोर्ट: एजेंसियां/ओ सिंह

संपादन: एस गौड़

DW.COM

WWW-Links