1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

जर्मन चुनाव

एशियाई खेलों में नहीं खेलेगी टीम इंडिया

भारत की क्रिकेट टीम इस साल के एशियाई खेलों में हिस्सा नहीं लेगी. भारतीय क्रिकेट बोर्ड बीसीसीआई ने एलान किया कि पुरुष या महिला टीम एशियाड के लिए नहीं जाएगी. एशियन गेम्स में इस साल पहली बार क्रिकेट खेला जाएगा.

default

बीसीसीआई का फैसला

भारत हाल के सालों में क्रिकेट की महाशक्ति बन कर उभरा है और टीम के एशियाई गेम्स में नहीं जाने का मतलब भारत को एक संभावित पदक का नुकसान होगा. इस साल का एशियाड चीन के ग्योनझाऊ में 12 से 27 नवंबर को खेला जाएगा. एशियाड में इस बार से ट्वेन्टी 20 क्रिकेट को भी शामिल कर लिया गया है.

Cricketspieler Suresh Raina Flash-Galerie

भारतीय क्रिकेट बोर्ड बीसीसीआई के मुख्य कार्यकारी अधिकारी रत्नाकर शेट्टी ने बताया, "हम चीन में होने वाले एशियाई खेलों के लिए पुरुष या महिला क्रिकेट टीम को नहीं भेज पाएंगे. ऐसा अंतरराष्ट्रीय कार्यक्रमों की वजह से किया जा रहा है."

शेट्टी ने बताया कि उन्होंने इस बात की जानकारी भारतीय ओलंपिक एसोसिएशन को दे दी है. एशिया में ओलंपिक खेलों की काउंसिल ने कुवैत में बैठक के दौरान क्रिकेट को एशियाई खेलों में शामिल करने का फैसला किया था. हिस्सेदारी का दावा करने के लिए सोमवार तक की समयसीमा थी.

नवंबर में भारत की राष्ट्रीय टीम का व्यस्त कार्यक्रम है. उस वक्त भारत को न्यूजीलैंड के खिलाफ तीन टेस्ट और पांच वनडे मैचों की मेजबानी करनी है. इस बार के एशियाड में 42 तरह के खेल मुकाबले होंगे, जो ओलंपिक खेलों से 14 ज्यादा हैं. पिछला ओलंपिक भी चीन में ही खेला गया था.

Cricket - Spiel zwischen 2 Dörfern

संभावना है कि पाकिस्तान, बांग्लादेश और श्रीलंका अपने क्रिकेट टीमों को एशियाई खेलों के लिए भेजेगा. हालांकि उनका भी अंतरराष्ट्रीय कैलेंडर व्यस्त है और समझा जाता है कि वे भी अपने टॉप खिलाड़ियों को नहीं भेज पाएंगे. उसी दौरान पाकिस्तान को दक्षिण अफ्रीका और श्रीलंका को वेस्ट इंडीज के खिलाफ खेलना है.

हालांकि बीसीसीआई ने व्यस्त क्रिकेट कैलेंडर को वजह बताया है लेकिन भारतीय क्रिकेट खिलाड़ी नशीली दवाइयों पर अंकुश लगाने वाली अंतरराष्ट्रीय एजेंसी वाडा के नियम कायदों को भी मानने के लिए तैयार नहीं. इसके बिना भी एशियाई खेलों में हिस्सा लेना नामुमकिन है.

रिपोर्टः एजेंसियां/ए जमाल

संपादनः एस गौड़

संबंधित सामग्री