1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

एवरेस्ट वाले शेरपा की मौत का अंदेशा

माउंट एवरेस्ट पर 19 बार फतह कर चुके नीमा शेरपा लापता हो गए हैं. आशंका जताई जा रही है कि एवरेस्ट के पास हुआ एक बड़ा हिम स्खलन उन्हें अपने साथ बहा ले गया है. अधिकारियों ने शेरपा की मौत की आशंका जताई.

default

जिस वादी और जिस चोटी से 43 साल के छेवांग नीमा शेरपा को सबसे ज्यादा प्यार था, उसी की गोद में अब वह लापता हैं. शनिवार को एवरेस्ट के पास एक 7,129 मीटर की चोटी पर चढ़ने के लिए वह रस्सियां बांध रहे थे. तभी बर्फ का बड़ा हिस्सा टूटकर नीचे की ओर बहने लगा. इसकी चपेट में शेरपा भी आए और तब से उनका कोई अता पता नहीं है.

नीमा के साथ एक और पर्वतारोही न्यिमा घ्यालजेन भी थे. नीमा शेरपा से 100 मीटर की ऊंचाई पर खड़े न्यिमा सुरक्षित हैं. न्यिमा ने ही हिमस्खलन और नीमा के लापता होने की सूचना दी. राहत और बचाव दल हैलीकॉप्टरों से उनकी तलाश कर रहा है. शेरपा शांग्रिला ट्रेक्स के निदेशक जीबान घिमरी ने कहा, ''उनके गुमशुदा होने के बाद काफी समय हो चुका है. हमें आशंका है कि उनकी मौत हो चुकी है. अगर वह बर्फ के नीचे दबे हैं तो उनके बचने की कोई संभावना नहीं है.''

Apa Sherpa

माउंट एवरेस्ट

दुआ की जा रही है कि शेरपा पत्थरों की किसी गुफानुमा जगह पर हों. ऐसी स्थिति में उनकी बचने की कुछ संभावनाएं हो सकती हैं. घिमरी के मुताबिक, ''अगर वह बर्फ के नीचे नहीं दबे हैं और किसी एकांत स्थान पर हैं तो उन्हें बचाया जा सकता है. वह एक अनुभवी पर्वतारोही हैं.''

नीमा शेरपा 20वीं बार एवरेस्ट पर चढ़कर अप्पा शेरपा के रिकॉर्ड की बराबरी करने जा रहे थे. लेकिन अब दो बच्चियों के पिता और सबसे अनुभवी इस पर्वतारोही को बर्फ के सागर में ढूंढा जा रहा है. उन्हें ऐसी जगह तलाशा जा रहा है जिसके चप्पे चप्पे से नीमा खुद वाकिफ थे. एवरेस्ट को नेपाल में सागरमाथा यानी सागर का मस्तक कहा जाता है. दुनिया की इस सबसे ऊंची चोटी पर चढ़ने का ख्वाब अब तक 4,000 से ज्यादा लोगों की जान ले चुका है. मारे गए लोगों में से ज्यादातर के शव अब भी बर्फ के नीचे दबे हुए हैं.

रिपोर्ट: एजेंसियां/ओ सिंह

संपादन: उज्ज्वल भट्टाचार्य

DW.COM

WWW-Links