1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

मनोरंजन

एवरेस्ट पर चढ़ा 13 साल का अमेरिकी बच्चा

अमेरिका के 13 साल के जोर्डन रोमेरो ने एवरेस्ट पर चढ़कर इतिहास रच दिया है. रोमेरो ने एवरेस्ट पर फतह करते ही सैटेलाइट फोन से अपनी मां को फोन किया. इससे पहले एवरेस्ट पर सबसे कम उम्र में 16 साल के टेम्बा त्रेत्री चढ़ थे.

default

जोर्डन रोमेरो

13 साल के रोमेरो तिब्बत के रास्ते एवरेस्ट की चोटी पर पहुंचे. 8,848 मीटर की गगनचुंबी चोटी पर पहुंचते ही रोमेरो ने कैलीफोर्निया फोन लगाया और अपनी मां से कहा, ''मैं तुम से बहुत प्यार करता हूं मां. मेरा सपना सफल हो गया है. मैं एवरेस्ट की चोटी पर खड़ा हूं.''

रोमेरो इस महीने अपने कई साथियों के साथ एवरेस्ट की चढ़ाई के लिए निकले थे. इससे पहले अफ्रीकी महाद्वीप की सबसे ऊंची चोटी किलीमंजारो पर विजय पा चुके रोमेरो का कहना है कि, एवरेस्ट के बाद अब मिशन अंटार्कटिका की तैयारी है. 13 साल का यह बच्चा अंटार्कटिका की सबसे ऊंची चोटी पर भी चढ़ना चाहता है.

Mount Everest

माउंट एवरेस्ट

1953 में एवरेस्ट पर पहले बार न्यूज़ीलैंड के सर एडमंड हिलेरी और नेपाल के तेंजिंग नॉर्गे चढ़े थे. तब से अब तक चार हजार से ज़्यादा पर्वतारोही इस चोटी पर विजय पा चुके हैं. नेपाल में सागरमाथा के नाम से मशहूर एवरेस्ट पर सबसे कम उम्र में चढ़ने का रिकॉर्ड अब 13 साल के रोमेरो का है. इससे पहले 16 साल की उम्र में टेम्बा शेरी इस चोटी पर चढ़े थे.

रोमेरो के साथ ही एवरेस्ट पर भारत के 17 साल के पर्वतारोही अर्जुन वाजपेयी ने भी अपना नाम दर्ज कराया. वाजपेयी एवरेस्ट पर चढ़ने वाले सबसे कम उम्र के भारतीय पर्वतारोही हैं. एवरेस्ट की चोटी सबसे ज़्यादा बार छूने का रिकॉर्ड नेपाल के अप्पा शेरपा के नाम हैं, अप्पा यह कारनामा 20 बार कर चुके हैं.

रिपोर्ट: एजेंसियां/ओ सिंह

संपादन: एस गौड़

संबंधित सामग्री