1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

मनोरंजन

एयर इंडिया की एयरहोस्टेस भी हों फिट

छरहरी काया, स्मार्ट लुक और दिल जीतने वाली बोली, किसी प्राइवेट एयरलाइंस में उड़ान भरने पर आपको ऐसी एयरहोस्टेस ही मिलती हैं. सरकारी एयर इंडिया में ऐसा नहीं है. अब वजन से संबंधित नए दिशानिर्देश को लेकर विरोध खड़ा हो गया है.

पिछले हफ्ते भारत के नागरिक उड्डयन महानिदेशालय ने घरेलू और अंतरराष्ट्रीय एयरलाइंस के लिए जारी नए दिशानिर्देशों में केबिन क्रू के लिए बॉडी मास इंडेक्स और स्वास्थ्य संबंधी मानक तय किया है. इसमें कहा गया कि अगर फ्लाइट अटेंडेंट्स का बीएमआई निर्धारित पैमानों से बाहर निकला तो उन्हें उड़ान भरने की मनाही हो सकती है. बीएमआई शरीर के भार और कद के बीच का अनुपात है.

नागरिक उड्ड्यन के नियामकों का कहना है कि केबिन क्र्यू के फिट न होने से वे फ्लाइट में किसी तरह की एमरजेंसी की स्थिति में अपनी ड्यूटी ठीक ढंग से निभाने में नाकाम हो सकते हैं. इससे यात्रियों की जान खतरे में पड़ सकती है. एयरलाइन की केबिन क्रू यूनियन का कहना है कि नागरिक उड्डयन महानिदेशालय द्वारा जारी किए गए नए नियमों से करीब 600 कर्मचारी प्रभावित हो सकते हैं, जिनमें से ज्यादा एयर इंडिया के होंगे. ऑल इंडिया केबिन क्रू एसोसिएशन के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, "दिशानिर्देश मनमाने और भेदभावपूर्ण हैं. वे ऐसा नहीं कर सकते हैं कि एक सुबह उठ कर अचानक थोथे वजह देकर नियम बदल दिए जाएं."

नाम की गोपनीयता बनाए रखने की शर्त पर अधिकारी ने बताया, "अब तक एयर इंडिया के केबिन क्रू का सुरक्षा रिकॉर्ड अच्छा रहा है. क्या उनके कहने का यह मतलब है कि अब तक एमरजेंसी की स्थिति सामना उन लोगों ने किया जो फिट नहीं हैं?" एसोसिएशन ने नागरिक उड्डयन महानिदेशालय को लिखा है कि केबिन क्रू तक उनका अधिकारक्षेत्र नहीं है, इसलिए उसके सदस्य नए दिशानिर्देश मानने को बाध्य नहीं हैं.

नए दिशानिर्देश में केबिन क्रू की नियमित मेडिकल जांच का भी सुझाव दिया गया है. इसमें कहा गया है कि उनकी मेडिकल जांच के आधार पर उन्हें उड़ान के लिए फिट, अस्थायी रूप से फिट नहीं या स्थायी रूप से फिट न होने की श्रेणी में बांटा जा सकता है.

पुरुषों के लिए बीएमआई 18 से 25 के बीच सामान्य, 25 से 29 के बीच सामान्य से ज्यादा और 30 से अधिक मोटापे की श्रेणी में रखा गया है. जबकि महिलाओं के लिए 18 से 22 के बीच सामान्य, 22 से 27 के बीच सामान्य से ज्यादा और 27 से ऊपर मोटापे में आता है.

महानिदेशालय की वेबसाइट पर फिट रहने के लिए स्वस्थ जीवनशैली और कसरत की सलाह दी गई है. वेबसाइट पर लिखा है कि जल्द वजन कम करने के तेज रफ्तार तरीकों और सर्जरी के जरिए वजन कम करने के खराब प्रभाव होते हैं, जिनसे केबिन क्रू को नुकसान हो सकता. इससे उन्हें दूर रहना चाहिए.

एसएफ/एमजे (एएफपी)

संबंधित सामग्री