1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

एयरबस की बोइंग को रिकॉर्ड तोड़ पछाड़

यूरोपीय विमान निर्माता एयरबस ने अमेरिकी प्रतिस्पर्धी बोइंग को फिर ऑर्डरों को बिक्री के मामले में पछाड़ दिया है. 2010 से उसे 574 नए ऑर्डर मिले और ग्राहकों को 510 विमानों की आपूर्ति की गई.

default

एयरबस कंपनी ने सोमवार को कंपनी के मुख्यालय फ्रांसीसी शहर टुलूस में बताया कि अपने अस्तित्व के 40वें साल में उसने एक साल पहले के मुकाबले दोगुने ऑर्डर हासिल किए और 10 हजार ऑर्डरों का आंकड़ा पार कर लिया है.

बाजार में 52 फीसदी हिस्से के साथ एयर बस ने बोइंग को एक बार फिर पीछे छोड़ दिया है जिसने पिछले साल 530 ऑर्डरों और 462 विमानों की सप्लाई के आंकड़े दिए हैं.

Flash-Galerie Iran Flugzeugabsturz

एयरबस ने इस साल भी पिछले साल जैसा प्रदर्शन करने की सोची है, और इसके लिए वग 3000 नए कर्मचारियों की भर्ती कर रहा है.

अच्छा रहा साल

एयरबस के प्रमुख जर्मनी के टॉम एंडर्स ने पिछले साल के आंकड़े पेश करते हुए कहा, "2010 कुल मिलाकर एक बहुत अच्छा साल था." रिचर्ड ब्रैंसन के वर्जिन अटलांटिक एयरलाइंस के ए 320 और ए 320 नियो विमानों के 30 नए ऑर्डरों के साथ एयरबस ने 10 हजार विमानों के ऑर्डर का स्तर पार कर लिया. इस तरह ब्रैंसन ए 320 नियो खरीदने वाले पहले ग्राहक होंगे. भारतीय कंपनी इंडिगो ने भी इस साल के आरंभ में 150 विमानों का ऑर्डर दिया है.

एंडर्स ने कहा कि एयरबस का कारोबार 30 अरब यूरो का रहा. 574 विमानों के ऑर्डर का मूल्य 74 अरब डॉलर है. लंबी दूरी के ए 330 और ए 340 विमानों की बिक्री में 91 विमानों की बिक्री के साथ नया रिकॉर्ड बना है.

एंडर्स ने कहा कि इस साल रॉल्स रॉयस के ट्रेंट 900 जेट इंजिनों में समस्याओं के कारण ए 380 प्रकार के सिर्फ 20 से 25 मेगाविमानों का निर्माण किया जा सकेगा. एयरबस प्रमुख ने कहा कि नए विमान बनाने के लिए कंपनी के पास इस समय 20 जेट इंजिनों की कमी है. उन्होंने कहा कि विमान के विकास का चरण समाप्त हो गया है और अगले साल हर महीने 3 मेगाविमानों का निर्माण होने लगेगा.

रिपोर्ट: एजेंसियां/महेश झा

संपादन: वी कुमार

DW.COM

WWW-Links