1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

मनोरंजन

एमजीएम खरीदने की फिराक में सहारा

सहारा इंडिया परिवार संकट से जूझ रही अमेरिकी सिनेमा कंपनी मेट्रो गोल्डविन मायर को खरीदने की तैयारी में है. एक अमेरिकी अखबार ने ये खबर दी है. अगर सौदा हुआ तो सहारा को 2 अरब डॉलर से ज्यादा खर्च करने होंगे.

default

कहा जा रहा है कि बातचीत अभी बिल्कुल शुरूआती दौर में है. खबर ये भी है कि सिनेमा स्टूडियो एमजीएम के शेयरहोल्डरों ने लखनऊ की इस कंपनी को स्टूडियो बेचने के प्रस्ताव में ज्यादा दिलचस्पी नहीं दिखाई है. सहारा के एक अधिकारी के हवाले से अखबार ने लिखा है कि "दोनों कंपनियों के हित में बातचीत चल रही है लेकिन अभी ये शुरुआती दौर में है."

DVD-Cover Heaven's Gate

एमजीएम के पास 4000 से ज्यादा फिल्में

एमजीएम दुनिया की सबसे बड़ी फिल्म कंपनी मानी जाती है जिसके पास 4000 से ज्यादा फिल्मों के अधिकार हैं. फिलहाल ये कंपनी 3.7 अरब डॉलर के कर्ज के बोझ से दबी हुई है. एमजीएम इस समय दिवालिया घोषित होने के लिए अपने निवेशकों के साथ बातचीत कर रही है.

अखबार के मुताबिक कंपनी के निवेशक अगले महीने एमजीएम की कमान अपने हाथों में लेकर उसे गैरी बार्बर और रोजर बिर्नबॉम के हाथों में सौंपने की तैयारी में हैं. ये दोनों स्पाइग्लास इंटरटेनमेंट नाम की कंपनी के मुखिया हैं. हाल ही में इस कंपनी ने डिनर फॉर श्मुक्स और इनविक्टस नाम की फिल्म में संयुक्त रुप से पैसा लगाया था.

मार्च के आखिरी दिनों में एमजीएम ने एलान किया था कि उसे खरीदने के लिए बहुत सी कंपनियों ने प्रस्ताव भेजे हैं. एमजीएम को खरीदने की होड़ में शामिल कंपनियों में टाइम वार्नर को भी एक प्रमुख दावेदार समझा जा रहा है. सहारा इंडिया भारत में कई टीवी चैनलों को चलाने के साथ ही फिल्मों के निर्माण से भी जुड़ी है. हालांकि इसका प्रमुख कारोबार अभी भी बैकिंग और फाइनेंस ही है.

रिपोर्टः एजेंसियां/एन रंजन

संपादनः महेश झा

DW.COM

WWW-Links