1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

एनएसए पर मुकदमा दर्ज

अमेरिकी सीनेटर रैंड पॉल ने व्यापक इंटरनेट जासूसी वाले एनएसए मामले में राष्ट्रपति बराक ओबामा और अन्य अमेरिकी अधिकारियों पर अदालत में मामला दर्ज किया है.

सीनेटर पॉल चाहते हैं कि इसके जरिए टेलिफोन और इंटरनेट पर जासूसी को खत्म कर दिया जाए. अेमेरिकी खुफिया एजेंसी सीआईए के पूर्व अधिकारी एडवर्ड स्नोडन ने इस बात का खुलासा किया था कि अमेरिकी सुरक्षा एजेंसी एनएसए दुनिया भर की टेलिफोन लाइनों और इंटरनेट पर गुपचुप नजर रखती है और राजनेताओं से लेकर सबके बारे में जानकारी जुटाती है. एनएसए ने जर्मन चांसलर अंगेला मैर्केल पर भी निगरानी रखी और उनके टेलिफोन की टैपिंग की.

ओबामा पर मुकदमा

सीनेटर रैंड पॉल ने इस मामले मे ठोस कदम उठाने का फैसला किया था. उनके मुताबिक उनके साथ रूढ़िवादी टी पार्टी के सदस्य इस "ऐतिहासिक" मामले को दर्ज करेंगे और उन सारे अमेरिकी नागरिकों का प्रतिनिधित्व करेंगे जिनके घर पर टेलिफोन है. "देश भर में लोगों के बीच विरोध बढ़ रहा है. ये लोग नाराज हैं क्योंकि उनके बारे में जानकारी बिना जज के वारंट के किया जा रहा है." रिपोर्टर से बात कर रहे सीनेटर पॉल ने दोनों हाथों में सेलफोन लिया हुआ था.

अदालत में दर्ज किए गए मामले में सीनेटर ने एनएसए पर आरोप लगाया है कि वह अमेरिकी संविधान के चौथे संशोधन का उल्लंघन करता है और वह कई लाखों लोगों के बारे में मेटाडाटा इकट्ठा करता है. मेटाडाटा यानी जानकारी के बारे में जानकारी. मेटाडाटा जमा करने वाले पता करते हैं कि कौन किसे कब फोन कर रहा है और कितनी बार फोन

Rand Paul

सिनेटर रैंड पॉल

कर रहा है. फोन करने के लिए कौनसे सेलफोन टावर से सिग्नल मिले. अगर किसी व्यक्ति के सेलफोन में सिग्नल एक फोनकॉल के दौरान अलग अलग टावर से आ रहे थे तो इसका मतलब कि वह एक जगह से दूसरी जगह जा रहा था. अगर कोई व्यक्ति किसी को रोज सुबह फोन करता है तो इसका मतलब है कि वह उस व्यक्ति के करीब है. जरूरी नहीं है कि फोन पर हुई बातचीत रिकॉर्ड की जाए, लेकिन केवल मेटाडाटा से किसी की भी जिंदगी के बारे में जरूरी जानकारी हासिल हो सकती है. इस मामले में राष्ट्रपति बराक ओबामा, राष्ट्रीय खुफिया निदेशक जेम्स क्लैपर, एनएसए निदेशक कीथ आलेक्सांडर और एफबीआई प्रमुख जेम्स कोमी को जिम्मेदार ठहराया गया है.

देशभक्त एक्ट में सुधार

राष्ट्रपति ओबामा ने अमेरिकी पैट्रियोट एक्ट की धारा 215 में सुधारों की मांग की थी. इस कानून से विवादित खुफिया प्रोग्राम को कई अधिकार दिए गए हैं. लेकिन सिनेटर पॉल का कहना है कि ओबामा को चौथे संशोधन का उल्लंघन रोकना होगा. "मैं एनएसए के खिलाफ नहीं हूं और जासूसी के खिलाफ भी नहीं. मैं फोन रिकॉर्ड देखने के खिलाफ भी नहीं हूं लेकिन मैं चाहता हूं कि आप जज के पास जाएं, आपके पास लोगों के नाम हों या वारंट हो."

Edward Snowden / USA / Bildschirme / NSA

स्नोडन ने किया एनएसए का खुलासा

पॉल के साथ शिकायत दर्ज कर रहे फ्रीडमवर्क्स संगठन के मैट किब ने चेतावनी दी कि अमेरिकी सरकार अपनी सीमाएं लांघ रही है. अब तक उन्होंने तीन लाख लोगों के हस्ताक्षर जमा किए हैं जो मेटाडाटा कार्यक्रम पर रोक लगाना चाहते हैं और अब तक जमा की गई जानकारी को नष्ट करवाना चाहते हैं. अमेरिकी न्याय मंत्रालय ने इस बीच एक बयान में कहा है कि धारा 215 में जिस टेलिफोन मेटाडाटा कार्यक्रम के बारे में कहा गया है वह कानूनी तौर पर वैध है और कम से कम 15 जजों की भी यही राय है.

एमजी/एएम(एएफपी, डीपीए)

DW.COM

संबंधित सामग्री