1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

"एथलेटिक टीम नहीं भेजेगा भारत"

भारतीय एथलेटिक्स महासंघ के अध्यक्ष आदिल सुमारीवाला ने कहा है कि यदि ग्लास्गो राष्ट्रमंडल खेलों के लिए एथलीटों की तैयारियां आधी अधूरी रही तो इन खेलों के लिए एथलेटिक टीम नहीं भेजी जाएंगी.

आदिल सुमारीवाला ने केंद्रीय खेल मंत्रालय और भारतीय खेल प्राधिकरण पर असहयोग करने का आरोप लगाते हुए कहा, "हमें भारतीय खेल प्राधिकरण (साई) और खेल मंत्रालय से जो सहयोग मिलना चाहिए था वह नहीं मिल पा रहा है. हमारी योजना समिति ने लिखकर दे दिया है कि राष्ट्रमंडल खेलों के लिए टीम न ही जाए तो अच्छा है."

एफआई के अध्यक्ष का कहना है कि खेल मंत्रालय और साई उनकी किसी भी मांग पर कभी नहीं बोलते हैं. लेकिन उनकी मांग को पूरा भी नहीं करते हैं. उनका कहना है कि वे कोई मांग रखते हैं तो उसे पूरा करने में ही छह आठ महीने का समय लग जाता है, जिससे उनकी तैयारी का एक एक दिन खराब हो जाता है. सुमारीवाला ने अपनी नाराजगी जाहिर करते हुए कहा, "मैं राष्ट्रमंडल खेलों की तैयारियों से कतई खुश नहीं हूं. कोच समय पर नहीं आ रहे हैं. फिजियोथेरेपिस्ट समय पर नहीं मिल रहा है. यही नहीं स्प्रिंट कोच तो 15 दिन पहले ही आया है. हमारी जो तैयारी साल भर पहले शुरू हो जानी चाहिए थी, वह अब तक ठीक तरीके से शुरू नहीं हो पाई है."

भारत ने चार साल पहले दिल्ली राष्ट्रमंडल खेलों में 101 पदक जीतकर आलोचकों को खामोश कर दिया था. इस बार पदक संभावनाओं के बारे में पूछे जाने पर सुमारीवाला ने थोड़ा भड़कते हुए कहा, "पहले टीम को जाने तो दीजिए. हमारे पास दिल्ली के प्रदर्शन के बाद अच्छा मौका था. अगर हम उसे आधार बनाकर तैयारी करते तो हम 150 के आसपास पदक जीत सकते थे. लेकिन इस बार तो 100 पदक भी नहीं आ पाएंगे."

एए/आईबी (वार्ता)

संबंधित सामग्री