1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

एजाज बट पाकिस्तान असेंबली में तलब

पाकिस्तान की असेंबली ने क्रिकेट बोर्ड के अध्यक्ष एजाज बट को 11 अक्तूबर को तलब किया है. उनसे इंग्लैंड दौरे में मैच फिक्सिंग विवाद के बारे में पूछा जाएगा. बट से इंग्लैंड पर लगाए गए उनके इलजाम पर भी जवाब मांगा जा सकता है.

default

बट से होगी पूछताछ

एजाज बट से यह भी पूछा जा सकता है कि पूर्व कप्तान यूनुस खान की सजा खत्म हो जाने के बाद भी उन्हें राष्ट्रीय टीम में क्यों शामिल नहीं किया गया. बट के अलावा बोर्ड के कानूनी सलाहकार तफज्जुल रिजवी, टीम के पूर्व मैनेजर यावर सईद, तीनों कोचों वकार यूनुस, आकिब जावेद और एजाज अहमद के अलावा मुख्य चयनकर्ता मोहसिन खान को भी सुनवाई के लिए बुलाया गया है.

असेंबली की एक कमेटी उनकी सुनवाई करेगी. क्रिकेट बोर्ड से जुड़े इन लोगों से हाल के इंग्लैंड दौरे में टीम के प्रदर्शन, इस दौरान मैच फिक्सिंग के स्कैंडल और वहां हुए दूसरे विवादों के बारे में पूछा जाएगा. कमेटी इन लोगों से पूछेगी कि पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड इन मामलों से किस तरह निपटा. कमेटी से जुड़े एक सूत्र ने बताया कि वे जानना चाहेंगे कि पाकिस्तान की टीम ने इतना खराब प्रदर्शन क्यों किया और इस दौरान वह इतने गंभीर विवाद में कैसे फंस गया.

Cricket Testspiel Pakistan gegen England Oval Stadion

खास तौर पर पीबीसी अध्यक्ष एजाज बट की शामत आने वाली है. उनसे इंग्लैंड की टीम पर मैच फिक्सिंग के इलजाम के बारे में पूछा जाएगा. बट ने कुछ दिन पहले यह बयान देकर सनसनी फैला दी कि इंग्लैंड के खिलाड़ियों ने तीसरे वनडे के दौरान मोटी रकम लेकर खराब प्रदर्शन किया और मैच हार गए. हालांकि बाद में इंग्लैंड पहुंच कर उन्होंने इस बयान के लिए माफी मांग ली. कमेटी उनसे पूछेगी कि किस बुनियाद पर उन्होंने ये आरोप लगाए और बाद में मुकर क्यों गए.

बोर्ड से पूछा जाएगा कि पाकिस्तान को ट्वेन्टी 20 का इकलौता वर्ल्ड कप जिताने वाले यूनुस खान को टीम में शामिल क्यों नहीं किया जा रहा है. इस साल के शुरू में ऑस्ट्रेलिया दौरे के बाद पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने सात क्रिकेटरों को सजा दी लेकिन तीन महीने बाद ही उनमें से छह की सजा खत्म हो गई. यूनुस खान और मोहम्मद यूसुफ पर अनिश्चितकाल के लिए क्रिकेट खेलने की पाबंदी लगाई गई, जो तीन महीने बाद ही खत्म कर दी गई. इसके बाद यूसुफ तो टीम में आ गए लेकिन यूनुस खान को नहीं चुना गया.

पाकिस्तान के पूर्व कप्तान जहीर खान ने हाल ही में कहा है कि टीम को मौजूदा संकट से निकालने के लिए यूनुस खान को दोबारा से कप्तान बना दिया जाना चाहिए.

इंग्लैंड दौरे के बीच में पाकिस्तान के टेस्ट कप्तान सलमान बट और उनके दो खिलाड़ियों मोहम्मद आमेर और मोहम्मद आसिफ पर पैसे लेकर खास मौकों पर नो बॉल फेंकने के इलजाम लगे. ब्रिटेन के एक अखबार ने स्टिंग ऑपरेशन से इस बात को सामने लाया. आईसीसी ने इसके बाद से तीनों खिलाड़ियों को निलंबित कर दिया है.

रिपोर्टः एजेंसियां/ए जमाल

संपादनः महेश झा

DW.COM

WWW-Links