1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

एजाज बट ईसीबी से माफी नहीं मांगेगे

इंग्लैंड के खिलाड़ियों पर मैच फिक्सिंग का आरोप लगाने के बाद से ही आलोचना झेल रहे पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के चेयरमैन एजाज बट माफी मांगने के मूड में नहीं हैं. सूत्रों के मुताबिक एजाज बट न तो माफी मांगेगे, न हर्जाना भरेंगे.

default

कराची में एजाज बट के एक करीबी सूत्र ने न्यूज एजेंसी रॉयटर्स को बताया, "इंग्लैंड और वेल्स क्रिकेट बोर्ड एजाज बट से बिना शर्त माफी की मांग कर रहे हैं, साथ ही वे खिलाड़ियों की प्रतिष्ठा पर चोट पहुंचाने की एवज में हर्जाना भी चाहते हैं. उनसे मिले खत में कहा गया है कि बट की टिप्पणी से वनडे सीरिज के दौरान नुकसान हुआ और पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड को इसकी भरपाई भी करनी होगी."

Pakistan Cricket Verband Ijaz Butt

माफी नहीं मांगूंगा

लेकिन पीसीबी चेयरमैन माफी मांगने के लिए जरा भी तैयार नहीं हैं. एक टीवी चैनल के साथ बातचीत में एजाज बट ने आरोप लगाया था, "बुकीज में चर्चा है कि तीसरा वनडे हारने के लिए इंग्लैंड के खिलाड़ियों को भारी भरकम रकम अदा की गई." बट की इस टिप्पणी से इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड भड़का हुआ है लेकिन बट ने साफ कर दिया है कि न तो वह माफी मांगेंगे और न ही हर्जाना भरने के लिए तैयार हैं.

इंग्लैंड और पाकिस्तान के बीच वनडे सीरीज के तीसरे वनडे मैच में पाकिस्तान ने इंग्लैंड को हरा दिया था लेकिन उसके भी फिक्स होने के आरोप के बाद अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद ने मैच की जांच शुरू कर दी. ब्रिटेन के एक अखबार ने आरोप लगाया था कि पाकिस्तानी बल्लेबाजों के स्कोर में एक खास पैटर्न देखने को मिला. जांच कराने के फैसले से आहत बट ने कहा था कि ऐसा कम ही होता है कि किसी टीम के मैच जीतने पर भी उसके खिलाफ जांच बैठाई जाती है.

पीसीबी के मीडिया मैनेजर नदीम सरवर ने जंग अखबार को बताया है कि एजाज बट इसलिए माफी नहीं मांगेंगे क्योंकि उन्हें इंग्लैंड के क्रिकेटरों पर मैच फिक्सिंग का आरोप नहीं लगाया है. "हर एक को यह ध्यान से सुनना चाहिए कि बट ने इंटरव्यू में कहा क्या है. उन्होंने सीधे तौर पर किसी के खिलाफ मैच फिक्सिंग का आरोप नहीं लगाया है." पाकिस्तान के तीन खिलाड़ी मोहम्मद आमेर, मोहम्मद आसिफ और सलमान बट के खिलाफ पहले ही स्पॉट फिक्सिंग के आरोप लग चुके हैं और उन्हें आईसीसी ने निलंबित कर दिया है.

रिपोर्ट: एजेंसियां/एस गौड़

संपादन: एन रंजन

DW.COM

WWW-Links