1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

एक भी रेल दुर्घटना नहीं होगी: ममता बनर्जी

रेल मंत्री ममता बनर्जी ने दावा किया है कि वह साल भर के भीतर भारतीय रेलवे को दुर्घटना मुक्त बना देंगी. रेल मंत्री के मुताबिक रेल नेटवर्क की सुरक्षा के लिए कई उपकरण लगाए जा रहे हैं. लेकिन पैसे का रोना लगा हुआ है.

default

डेढ़ साल के कार्यकाल में 10 रेल हादसों को देख चुकी रेल मंत्री ममता बनर्जी अब रेलों को सुरक्षित बनाने का वादा कर रही हैं. इकोनॉमिक एडिटर्स के सम्मेलन को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि ट्रेनों एंटी कोलिजन डिवाइस यानी टक्कर रोधी उपकरण लगाए जा रहे हैं. ममता के मुताबिक, ''छह महीने से लेकर साल भर के भीतर यह काम पूरा कर लिया जाएगा. हमारी नीति होगी कि रेलवे को दुघर्टनामुक्त बनाया जाए.''

सुरक्षा की बात करते हुए ममता बनर्जी अपने मंत्रालय की आर्थिक तंगी दिखाने से भी हिचकी. उनके मुताबिक रेलवे को एक लाख करोड़ रुपये की जरूरत है. कई योजनाएं लंबित पड़ी हुईं हैं और उन्हें पूरा करने के लिए इस रकम की जरूरत है. कुछ लोगों ने जब यह सवाल किया कि रेलवे की वित्तीय हालत कैसी है तो उन्होंने केंद्र सरकार को इसके लिए जिम्मेदार ठहरा दिया. ममता ने कहा कि छठे वेतन आयोग को लागू करने के बाद रेलवे की आर्थिक सेहत खराब हुई है.

Indien Zugunglück

डेढ़ साल के कार्यकाल में दस रेल हादसे

तृणमूल नेता के मुताबिक छठे वेतन आयोग से उनके विभाग पर 55,000 करोड़ रुपये का अतिरिक्त भार पड़ा है. पेंशन का खर्च भी 15,000 करोड़ रुपये बढ़ा है. लेकिन इन आंकड़ों का जिक्र के बीच वह अपनी तारीफ करना नहीं भूलीं. ममता ने कहा, ''वेतन आयोग की सिफारिशें लागू होने के बावजूद हमने बिना किराया बढ़ाए खर्चों का इंतजाम कर लिया.''

ममता बनर्जी के रेल मंत्रालय संभालने के बाद से भारत में अब तक 10 रेल दुर्घटनाएं हो चुकी हैं. रेलवे का मुनाफा भी गिरा है. विरोधी कहते हैं कि वह पश्चिम बंगाल की राजनीति से बाहर नहीं निकल पा रही हैं.

रिपोर्ट: एजेंसियां/ओ सिंह

संपादन: आभा एम

DW.COM

WWW-Links