1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

जर्मन चुनाव

एक और 26/11 नहीं होने देंगे: एके एंटनी

मुंबई हमलों की दूसरी बरसी पर एक समारोह में हिस्सा लेते हुए रक्षा मंत्री एके एंटनी ने भरोसा दिलाया है कि 26/11 जैसा हमला फिर नहीं होने दिया जाएगा. एंटनी ने सतर्कता का स्तर ऊंचा बनाए रखने की जरूरत पर जोर दिया है.

default

एके एंटनी ने कहा कि मुंबई हमला याद दिलाता है कि भारत के पड़ोसी देशों में हालात अस्थिर हैं और इसके चलते सुरक्षा बलों को सतर्कता बनाए रखनी होगी. मुंबई हमलों में मारे गए लोगों के परिवारजनों के प्रति संवेदनाएं व्यक्त करते हुए एंटनी ने सुरक्षाकर्मियों को श्रृद्धांजलि दी. एंटनी ने विश्वास जताया है कि देश का संकल्प मुंबई हमले जैसी घटना को फिर नहीं होने देगा.

गृह मंत्री पी चिदम्बरम ने आतंकवादी हमले की दर्दनाक याद को बयां करने वाले स्थान पर श्रृद्धासुमन अर्पित किए हैं. घटनास्थल पर 7 फुट ऊंचा ग्रेनाइट से बना स्मृति चिन्ह खड़ा किया गया है. स्मृति चिन्ह पर लिखा है: आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई जारी रहेगी.

चिदम्बरम ने एक सीएनजी स्टेशन का भी उदघाटन किया जिसे महानगर गैस ने 26/11 हमले के दौरान अदम्य साहस दिखाने वाले तुकाराम ओंबले के परिवार को भेंट किया है. ओंबले के साहसिक प्रयास के चलते ही अजमल कसाब को पकड़ा जा सका था लेकिन ओंबले की मौत हो गई. चिदम्बरम ने 26/11 हमलों में मारे गए पुलिस अधिकारी विजय सालस्कर की पत्नी स्मिता सालस्कर और हेमंत करकरे की पत्नी कविता करकरे से भी मुलाकात की.

मुंबई हमले की दूसरी बरसी पर भारत ने पाकिस्तान से आतंकी ढांचे को खत्म करने और मुंबई हमले के दोषियों को सजा दिलाने का आग्रह किया है. भारत के विदेश मंत्री एसएम कृष्णा ने कहा, "पाकिस्तान को जल्द से जल्द आतंकी नेटवर्क को तहस नहस कर देना चाहिए और मुंबई हमले के दोषियों को जल्द से जल्द सजा दिलानी चाहिए."

रिपोर्ट: एजेंसियां/एस गौड़

संपादन: प्रिया एसलबोर्न

DW.COM