1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

जर्मन चुनाव

एक्जिट पोल में बीजेपी को भारी बढ़त

दुनिया की सबसे लंबी चली चुनावी प्रक्रिया के बाद अब एक्जिट पोल हो रहे हैं. पांच हफ्तों तक चले मतदान में करीब 55 करोड़ मतदाताओं ने अपने हक का इस्तेमाल किया.

आखिरी चरण की 41 सीटों पर मदतान खत्म होने के साथ साथ एक्जिट पोल जारी किए जा रहे हैं जिसमें मुख्य विपक्षी दल भारतीय जनता पार्टी और उसके नेता नरेंद्र मोदी को बढ़त मिलता बताया जा रहा है. सात अप्रैल को देश में मतदान शुरू होने के पहले चुनावी सर्वेक्षणों में भी बीजेपी और उनके सहयोगियों को बढ़त लेते हुए बताया गया था. शेयर बाजार इस उम्मीद के साथ नए नए रिकॉर्ड बनाता गया कि नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में सरकार बनेगी और वह अर्थव्यवस्था को संकट से निकाल लेगी. लेकिन इस बीच जानकारों ने सावधानी बरतने का आग्रह किया है, क्योंकि 2004 और 2009 की चुनावी भविष्यवाणी गलत साबित हुई थी.

सी वोटर द्वारा पहले पूर्ण सर्वे में बीजेपी और सहयोगियों को बहुमत के करीब पहुंचता बताया गया है. सीएनएन-आईबीएन और हेडलाइंस टुडे जैसे अन्य चैनलों के एक्जिट पोल में कांग्रेस कई राज्यों में उखड़ती नजर आई. अंग्रेजी चैनल टाइम्स नाउ के मुताबिक बीजेपी और सहयोगियों को 249 सीटें मिलने का अनुमान है जबकि कांग्रेस की हालत खस्ता बताई जा रही है. चैनल के मुताबिक यूपीए को सिर्फ 148 सीटें मिलने का अनुमान है जबकि अन्य पार्टियों को 146 सीटें मिलता दिखाया गया है.

चुनाव के खत्म होते ही निर्वाचन आयोग ने विश्व के सबसे बड़े चुनावों के आंकड़े जारी किए. आयोग का कहना है कि 55 करोड़ से ज्यादा लोगों ने अपना वोट डाला और 2009 के मुकाबले 13 करोड़ ज्यादा वोट पड़े. इस लोकसभा चुनाव में कुल 66.38 प्रतिशत मतदान रिकॉर्ड किया गया जो अब तक का सर्वाधिक मतदान है.

16 मई को वोटों की गिनती होनी है और उसके बाद ही यह साफ हो पाएगा कि किस पार्टी की सरकार केंद्र में आती है. चुनाव के दौरान सबसे ज्यादा ध्यान उत्तर प्रदेश के धार्मिक शहर वाराणसी ने अपनी तरफ खींचा. यहां से बीजेपी के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी चुनाव मैदान में थे. 63 वर्षीय मोदी को भरोसा है कि मतगणना वाले दिन वह यहां से चुनाव जीतेंगे. मोदी गुजरात के वडोदरा से भी मैदान में हैं. एक वीडियो संदेश के जरिए मोदी ने गर्मी के बावजूद भारी संख्या में वोट डालने के लिए घरों से निकले वाराणसी के मतदाताओं का शुक्रिया अदा किया. भारतीय राजनीति में कदम रखने वाली नई पार्टी आम आदमी पार्टी भी वाराणसी से चुनाव लड़ रही है. पार्टी के नेता अरविंद केजरीवाल यहां मोदी को हराने का दम भर रहे हैं. वाराणसी में मतदान के दौरान केजरीवाल ने कहा, "जिस तरह से पिछले तीन दिनों में हालात बदले हैं, हर कोई कह रहा है कि मोदी हार रहे हैं." ओपिनियन पोल के मुताबिक भारत के मतदाता भारी भ्रष्टाचार, महंगाई और आर्थिक सुस्ती के कारण कांग्रेस पार्टी से नाराज हो कर मुंह मोड़ चुके हैं.

एए/एमजी (एएफपी)

DW.COM

संबंधित सामग्री