1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

मनोरंजन

एंजलीना पर भड़के बोस्नियाई जंग के पीड़ित

पहली बार फिल्म का निर्देशन करने जा रही एंजलीना जॉली ने बोस्नियाई जंग पीड़ितों को नाराज कर दिया है. एंजलीना की फिल्म जंग के दौरान बलात्कार की शिकार एक लड़की के बलात्कारी सैनिक के प्रेम में पड़ने की कहानी है.

default

फिल्म में लड़की को बोस्नियाई मुस्लिम दिखाया गया है और इसी बात से बोस्निया के मुस्लिम नाराज हैं. 1992 से 1995 तक बोस्निया ने बेलग्रेड समर्थित सर्ब लोगों से जंग लड़ा.जंग के दौरान बड़े पैमाने पर अत्याचार हुए जिनमें संगठित तरीके से महिलाओं से बलात्कार भी हुआ. जंग के दौरान इन अत्याचारों के शिकार हुए लोगों का कहना है कि बलात्कार की शिकार कोई लड़की बलात्कारी से कैसे प्यार कर सकती है.

Flash-Galerie Angelina Jolie in Bosnien Herzegowina

पीड़ित महिलाओं की मांग पर देश के संस्कृति मंत्रालय ने एंजलीना को दी गई फिल्म बनाने की इजाजत वापस भी ले ली लेकिन कुछ ही दिनों बाद इसे लौटा दिया गया. पीड़ित महिलाओं के संगठन की सदस्य बकीरा हजेसिक ने संयुक्त राष्ट्र की शरणार्थी एजेंसी यूएनएचसीआर को पत्र लिखकर एंजलीना से मुलाकात करने की मांग की है. एंजलीना यूएनएचसीआर की गुडविल एंबेसडर हैं.

Flash-Galerie Angelina Jolie in Bosnien Herzegowina

विरोध के कारण एंजलीना ने अपनी फिल्म की ज्यादातर शूटिंग हंगरी में की. फिल्म की शूटिंग तो पूरी हो गई है लेकिन ये कब रिलीज होगी इस बारे में कोई जानकारी नहीं दी गई है. फिल्म का नाम भी नहीं तय है. एंजलीना ने कहा है कि उनका इरादा जंग पीड़ितों को नुकसान पहुंचाने का नहीं है और जो लोग भी फिल्म का विरोध कर रहे हैं उन्हें पहले ये फिल्म देखनी चाहिए.

एंजलीना 2001 से ही यूएनएचसीआर की गुडविल एम्बेसडर हैं. एंजलीना ने ये भी नहीं बताया है कि वो बोस्नियाई महिलाओं की संस्था के प्रतिनिधियों से मिलेंगी या नहीं.

रिपोर्टः एजेंसियां/एन रंजन

संपादनः एस गौड़

DW.COM

WWW-Links