1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

उल्फा के 19 बड़े नेता गिरफ्तार

प्रतिबंधित संगठन यूनाइटेड लिबरेशन फ्रंट ऑफ असम के 19 बड़े नेताओं को पुलिस गिरफ्तार कर बांग्लादेश से भारत ले आई है. मेघालय पुलिस के एक बड़े अधिकारी ने इस बात की जानकारी दी.

default

कुल 28 लोग गिरफ्तार किए गए हैं जिनमें 19 उग्रवादियों के अलावा उनके परिवार के सदस्य भी हैं. असम पुलिस मेघालय के रास्ते इन लोगों के बांग्लादेश से गुवाहाटी लेकर आई. अभी तक ये नहीं पता चल सका है कि पुलिस ने इन लोगों को पकड़ा या फिर इन्होंने आत्मसमर्पण किया.

इससे पहले उल्फा के प्रमुख कमांडर परेश बरुआ ने गुवाहाटी में मीडिया संस्थानों को भेजे एक ईमेल में दावा किया कि भारतीय सुरक्षाबलों ने उल्फा के 22 लोगों को बांग्लादेश से हिरासत में लिया है. इन लोगों में कैप्टेन भाइटी बरुआ, कैप्टेन बिजू डेका, कैप्टेन प्रद्युत गोहाई, अनु बुरागोहाइ और कुछ दूसरे लोग हैं.

उल्फा के चेयरमैन अरबिंद राजखोआ, डिप्टी कमांडर राजू बरुआ, विदेश सचिव साशा चौधरी और वित्तिय सचिव चित्रबन हजारिका पहले से ही असम की जेलों में बंद हैं. पिछले कुछ महीनों से बांग्लादेश की सरकार ने उल्फा के लोगों पर लगाम कस दी है. बांग्लादेश की सरकार ने साफ कह दिया है कि वो अपनी जमीन का इस्तेमाल भारत विरोधी कार्रवाईयों के लिए नहीं होने देगी. पड़ोसी देश की इस मुहिम का असर दिखने लगा है और उल्फा उग्रवादियों की कमर टूटने लगी है. इसी क्रम में बड़े पैमाने पर गिरफ्तारियां भी हुई है.

रिपोर्टः एजेंसियां/एन रंजन

संपादनः एस गौड़

DW.COM

WWW-Links