1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

उलटफेर के बाद आगे धुरंधर

हफ्ते भर कोर्ट के बाहर मारिया शारापोवा से मुकाबला कर सुर्खियां बटोरने के बाद सेरेना विलियम्स ने कोर्ट पर भी जलवा दिखाया और एक सत्र में लगातार 32 जीत के साथ अपना रिकॉर्ड बेहतर कर लिया.

फिलहाल महिला टेनिस की दुनिया में उनके इस प्रदर्शन के आस पास और कोई नहीं. साल 2000 के बाद एक सत्र में लगातार इतनी जीत सेरेना के हिस्से में भी पहली बार आई हैं. उन्होंने मंगलवार को लक्जमबर्ग की मैंडी मिनेला को 6-1, 6-3 से हरा कर छठे विंबलडन और 17वें ग्रैंड स्लैम की ओर कदम बढ़ाए. हार के बाद मिनेला ने कहा, "आप उन्हें काफी हद तक अपराजेय कह सकते हैं. वह हमेशा की तुलना में बेहतर खेल रही हैं."

हालांकि विलियम्स और उनकी फ्रांसीसी कोच की राय इससे अलग है. कोच पैट्रिक मोर्तोग्लू का कहना है कि विलियम्स के खेल में कुछ चीजों को बेहतर करने की जरूरत है. नंबर वन रैंकिंग वाली अमेरिकी टेनिस स्टार ने कहा, "कई ऐसे तरीके हैं जिनसे मैं बेहतर कर सकती हूं और मुझे अगर टूर्नामेंट के दूसरे हफ्ते में भी बने रहना है तो उन्हें करना होगा."

सेरेना ने आसानी से पहला मैच जीत कर विंबलडन के माहौल को थोड़ा स्थिर किया. रफाएल नडाल के पहले चक्र में ही मुकाबले में हार कर बाहर होने और दो बार की ऑस्ट्रेलियाई ओपन विजेता विक्टर अजारेंका के घुटनों में आई चोट ने इससे पहले टूर्नामेंट को अस्त व्यस्त कर दिया था.(विंबलडन में उथल पुथल) मंगलवार को बाहर होने वाले हाई रैंकिंग खिलाड़ियों में 10वें नंबर की मारिया किरिलेंको हैं, जिन्हें लॉरा रॉबसन ने हराया. 15 सालों में पहली बार किसी ब्रिटिश महिला खिलाड़ी ने 10वीं रैंकिंग वाली खिलाड़ी को हराने का माद्दा दिखाया है. कुल 10 ब्रिटिश खिलाड़ी मुकाबले में आए थे, अब बस रॉबसन और एंडी मरे ही बचे हैं. ब्रिटेन सालों से विंबलडन की ओर तरसती निगाहों से देख रहा है. रॉबसन ने कहा, "सारे ब्रिटिश खिलाड़ियों के लिए यहां आना और जैसा कि आप जानते हैं पहले दौर में हार जाना, बेहद मुश्किल होता है." मंगलवार को आसानी से अपना पहला मैच जीतने वालों में एनिएस्का रादवांस्का, ली नीना और एंजेलिक केर्बर भी हैं.

नडाल की हार अब भी लोगों से हजम नहीं हो रही है और उस पर चर्चा जारी है. टॉप सीड जोकोविच ने कहा कि यह याद दिलाता है, "आप किसी चीज या शख्स को हल्के में नहीं ले सकते. ईमानदारी से कहूं तो मैं उसे कोर्ट पर थोड़ा धीमे होने की उम्मीद कर रहा था, घास पर न खेल रहे शीर्ष खिलाड़ियों के लिए शुरूआत में यह थोड़ा खतरनाक होता है." जोकोविच ने 34वीं रैंकिंग वाले जर्मनी के फ्लोरियम मायर को 6-3, 7-5, 6-4 से हराकर बाहर भेजा और इस दौरान उनके माथे पर बस तभी बल आया जब वो सेंटर कोर्ट की हरी घास पर फिसल कर गिर गए. अर्जेंटीना के मार्टिन एलुंड को हराने वाले डेविड फेरर ने भी जीत के बाद कोहनी में दर्द की शिकायत की.

मौजूदा चैंपियन रोजर फेडरर और एंडी मरे अपने मुकाबले जीतकर विंबलडन में आगे बढ़ चले हैं. फेडरर इस बार आठवां विंबलडन जीतने का करिश्मा करने की फिराक में हैं जो अब तक कोई और नहीं कर पाया है. उधर मरे विंबलडन के लिए तरसते ब्रिटेन की प्यास बुझाने को व्याकुल हैं.

एनआर/एजेए (एएफपी, एपी)

DW.COM

WWW-Links