1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

उरुग्वे क्वार्टर फाइनल में, दक्षिण कोरिया मायूस

लुइस सुरेत्ज के दो गोलों के सहारे उरुग्वे ने वर्ल्ड कप के अगले दौर के मैच में दक्षिण कोरिया को 2-1 से हराया. वर्ल्ड कप के क्वार्टर फाइनल में पहुंचने वाली उरुग्वे पहली टीम. दक्षिण कोरिया के खेमे में भारी मायूसी पसरी.

default

उरुग्वे के लिए यह जीत इसलिए मायने रखती है क्योंकि 40 साल बाद वह वर्ल्ड कप के क्वार्टर फाइनल में पहुंचा है. इसमें सबसे बड़ा योगदान रहा सुरेत्ज का जिन्होंने लक्ष्य पर पांच शॉट लगाए और उनमें से दो को गोल में तब्दील कर दिया. 80वें मिनट में दो डिफेंडरों को छकाते हुए और दांए पैर से लिया गया उनका शॉट यादगार रहा. बॉल घूमते हुए गोलपोस्ट में जगह बनाने में सफल हो गई.

Flash-Galerie Fußball WM 2010 Südafrika Achtelfinale Uruguay vs Südkorea Tor Chung-Yong Lee

वैसे सुरेत्ज ने उरुग्वे को मैच के आठवें मिनट में ही बढ़त दिला दी. डिएगो फोरलान ने क्रॉस दिया और सुरेत्ज ने मुश्किल एंगल से भी किक लगाते हुए गोल कर दिया. पहले हाफ तक स्कोर 1-0 रहा. 68वें मिनट में दक्षिण कोरिया के ली चुंग योंग ने हेडर के जरिए मैच को बराबरी पर ला दिया. लेकिन 80वें मिनट में सुरेत्ज के गोल से उरुग्वे को निर्णायक बढ़त मिल गई.

मैच खत्म होते ही दक्षिण कोरियाई खिलाड़ी अपने घुटनों पर गिर गए. उन्हें वर्ल्ड कप से बाहर होने का एहसास कर पाने में मुश्किलें पेश आ रही थीं. लेकिन उरुग्वे के खिलाड़ी जश्न में डूबे हैं. हालांकि वर्ल्ड कप के अगले मैचों में उनके सामने चुनौती जबरदस्त होगी पर फिलहाल तो वे उसे भूलना चाहते हैं. 1970 से टीम वर्ल्ड कप के क्वार्टर फाइनल में नहीं पहुंची थी.

दो बार वर्ल्ड कप चैंपियन रह चुकी उरुग्वे ने आखिरी बार यादगार प्रदर्शन 1970 में किया जब उसका सफर सेमीफाइनल तक रहा. वहीं दक्षिण कोरिया के प्रशंसकों के लिए निराशा की खबर है. 2002 में टीम वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल में पहुंची लेकिन इस बार क्वार्टर फाइनल में पहुंचने में भी सफल नहीं हो सकी.

रिपोर्ट: एजेंसियां/एस गौड़

संबंधित सामग्री