1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

उम्मीदवारी का पर्चा नहीं भर पाए केजरीवाल

पूर्व मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल 7 फरवरी को होने वाले दिल्ली चुनावों के लिए नामांकन नहीं कर पाए. वहीं बीजेपी की मुख्यमंत्री पद की उम्मीदवार किरण बेदी बुधवार को बीजेपी की परंपरागत सीट से पर्चा दाखिल करेंगी.

आम आदमी पार्टी के नेता अरविंद केजरीवाल आज अपनी ही सफलता के शिकार हो गए जब वे अपने रोड शो में जमा भीड़ के कारण समय पर चुनाव आयोग के दफ्तर नहीं पहुंच पाए और पर्चा दाखिल नहीं कर पाए. कल नामांकन का आखिरी दिन है. उन्हें तीन बजे जिलाधिकारी के दफ्तर पहुंचना था लेकिन पौने तीन बजे घोषणा की कि वे नामांकन दाखिल करने की समय सीमा पार कर चुके हैं.

बीजेपी ने अन्ना हजारे के भ्रष्टाचार विरोधी आंदोलन में केजरीवाल के साथ रहीं किरण बेदी को दिल्ली चुनाव की बागडोर सौंपने का फैसला किया है. बीजेपी नेतृत्व में किरण बेदी को चुनाव में उतार कर अरविंद केजरीवाल को किनारा करने की सोची थी, लेकिन नेतृत्व के फैसले से पार्टी में असंतोष दिख रहा है. टिकटों के बंटवारे पर भी पार्टी के अंदर दंगल शुरू हो गया है.

विधान सभा चुनाव के लिए टिकट बंटवारे को लेकर बीजेपी के अंदर चौतरफा विद्रोह शुरू हो गया है. बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष सतीश उपाध्याय को टिकट न दिए जाने से नाराज उनके समर्थकों ने मंगलवार को बीजेपी दफ्तर के बाहर जमकर हंगामा किया, तो ओखला से टिकट कटने पर बीजेपी नेता धीर सिंह विधूड़ी ने अपने समर्थकों के साथ पार्टी से इस्तीफा दे दिया.

सतीश उपाध्याय ने कहा कि उन्होंने खुद ही चुनाव न लड़ने का फैसला किया है. संसदीय बोर्ड ने उनसे चुनाव लड़ने के बारे में पूछा था, लेकिन उन्होंने इनकार कर दिया. उपाध्याय ने कहा कि उनका एकमात्र लक्ष्य दिल्ली में किरण बेदी को जिताना और केजरीवाल को दिल्ली से भगाना है. वह बीजेपी के समर्पित कार्यकर्ता हैं और पार्टी के हर फैसले से सहमत हैं.

टिकट बंटवारे में पूर्वांचल को उचित प्रतिनिधित्व न दिए जाने से बीजेपी के पूर्वांचल के कार्यकर्ता नाराज हैं. उन्होंने भी पार्टी दफ्तर में हंगामा किया और पार्टी अध्यक्ष अमित शाह के खिलाफ जमकर नारे लगाए. उनका कहना था कि दिल्ली में 40 फीसदी पूर्वांचल के लोग हैं, इस लिहाज से 24 टिकट पूर्वांचल के उम्मीदवारों को मिलने चाहिए थे, जबकि सिर्फ एक को टिकट मिला है.

एमजे/आईबी (पीटीआई)

DW.COM

संबंधित सामग्री